INDvsENG: कुलदीप यादव की चर्चाओं के बीच दादा ने कहा, यह ना भूलें...
Demo Pic


नई दिल्ली: टीम इंडिया इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में कैसा प्रदर्शन करेगी. यह सवाल इन दिनों सबसे ज्यादा चर्चा में हैं. इंग्लैंड के दौरे में इस सीरीज में टीम इंडिया के सामने सबसे बड़ी चुनौती इंग्लै़ंड की तेज पिचों पर इंग्लैंड के पेस आक्रमण का सामना करते हुए रन बनाने की है. इतिहास भी इस मामले में टीम इंडिया के पक्ष में नहीं है. वनडे सीरीज में स्पिनर्स भी छाए रहे जहां पिचें तेज मिजाज की नहीं थी, इस सीरीज में कुलदीप यादव के शानदार प्रदर्शन की वजह से उन्हें टेस्ट टीम में खिलाने की बातें भी हो रहीं है. ऐसे में टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने कहा है कि लोगों को अश्विन का प्रदर्शन भी नहीं भूलना चाहिए. 

वनडे सीरीज में कुलदीप यादव ने जिस तरह से 9 विकेट लेकर इंग्लैंड के खेमें खलबली मचाई थी उसकी खूब चर्चा हुई. हालाकि बात में अंतिम दो वनडे (खासकर आखिरी वनडे में ) इंग्लैंड के बल्लेबाजों ने बेहतर खेला. लेकिन कुलदीप के बारे में चर्चा नहीं रुकी. इन चर्चाओं को और ज्यादा हवा मिली जब कुलदीप को टेस्ट टीम में शामिल कर लिया गया. कुलदीप ने पहले वनडे में इंग्लैंड के छह विकेट लिए थे. 

कुलदीप पर कई दिग्गजों के भी बयान आए. महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने भी उम्मीद जताई कि कुलदीप यादव टेस्ट में बढ़िया प्रदर्शन कर सकते हैं. सचिन के अलावा इंग्लैंड के दिग्गज भी कुलदीप की तारीफ कर चुके हैं और उन्होंने टेस्ट मैच में कुलदीप के खेलने की उम्मीद जताई थी. लेकिन टेस्ट टीम में भारत के कितने स्पिनर्स खेल सकते हैं. कप्तान विराट कोहली के लिए सबसे बड़ी चुनौती यही होगी कि वे कितने स्पिनर्स को एक साथ खिला पाएंगे.

सौरव गांगुली ने इसी बात के मद्देनजर कहा है कि हम अश्विन के रिकॉर्ड को नजरअंदाज नहीं किया जाना चाहिए  दादा ने कहा, “आप उन्हें गायब होने नहीं दे सकते हैं. टेस्ट क्रिकेट में 300 से ज्यादा विकेट लेना मजाक नहीं है. उसने आईपीएल में बढ़िया लेग स्पिन खेली और वह बेहतर होगा. लोगों को यह समझना होगा कि 300 विकेट ऐसे ही नहीं आते, अश्विन ज्यादा मौकों के हकदार हैं.”  

अश्विन के स्थान को चुनौती है, लेकिन वे वापसी करेंगे
सौरव ने कहा कि अश्विन इन दोनों तगड़े मुकाबले का सामना कर रहे हैं टीम में जगह बनाए रखने के लिए उन्होंने काफी बदलाव किए हैं वे खुद को दोबारा स्थापित जरूर करेंगे. गौरतलब है कि अश्विन ने अपने करियर में 26 बार एक पारी में पांच विकेट लेने का कमाल किया है जो कि वर्तमान में आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में नंबर वन गेंदबाज जेम्स एंडरसन से एक ज्यादा है. एंडरसन एक पारी में 25 बार पांच विकेट ले चुके हैं. अश्विन इस समय 811 अंकों के साथ आईसीसी रैंकिं ग में पांचवे स्थान पर हैं जबकि काफी समय से उन्होंने टेस्ट क्रिकेट नहीं खेला है. जनवरी में वे दक्षिण अफ्रीका सीरीज में भी उन्हें तीन में से केवल दो ही टेस्ट में खिलाया गया था. 


अधिक खेल की खबरें