देवरिया शेल्टर होम कांड : बोली सपा - राज्यपाल की ख़ामोशी हैरत में डालती है
File Photo


लखनऊ, देवरिया में मां विंध्यवासिनी बालिका संरक्षण गृह में बच्चियों से यौन उत्पीड़न का सनसनीखेज मामला सामने आने बाद प्रदेश के मुख्य विपक्षी दल समाजवादी पार्टी ने सत्तासीन योगी आदित्यनाथ सरकार पर जोरदार हमला बोला है. सपा ने इस घटना को बेहद शर्मनाक और निंदनीय बतया है. 

इस संदर्भ में जारी अपने बयान में सपा के राष्ट्रीय सचिव राजेंद्र चौधरी ने कहा है कि उत्तर प्रदेश की योगी सरकार बच्चियों के यौन शोषण के आरोप से बच नहीं सकती. उन्होंने कहा कि ये बेहद शर्मनाक है कि बच्चियों से यौन शोषण के इस बेहद गंभीर मामले में राजभवन खामोश है. चौधरी ने कहा कि राज्यपाल लगातार अपराध स्थिति में सुधार की बात करते रहे हैं लेकिन राज्य सरकार उनको हल्के में ले रही है। 

सपा के राष्ट्रीय सचिव ने देवरिया की घटना बिहार के मुजफ्फरपुर से भयानक बताया है. उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार के 16 महीनों में यदि कोई सर्वाधिक पीड़ित शोषित और अपमानित हुआ है तो वह प्रदेश की महिलाएं तथा बच्चियां है। उनकी इज्जत और सम्मान राज्य में सुरक्षित नहीं। बलात्कार, लूट, हत्या और अपहरण की वारदातें थमने का नाम नहीं ले रही है। ‘‘बेटी बचाओं बेटी पढ़ाओं‘‘ का दावा खोखला साबित हो चुका है। जहां बच्चियां लाजवश आत्महत्या कर रही हों और स्कूल कालेज पढ़ने नहीं जा पा रही हों वहां सरकार द्वारा उन्हें सुरक्षा न दे पाना अक्षम्य अपराध है। 

चौधरी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में देवरिया जैसे जघन्य काण्ड के बाद भी मुख्यमंत्री जी का प्रदेश में कानून का राज बताना सच से पलायन है। उनकी घटना की जांच कराने की घोषणा सिर्फ दिखावे की नौटंकी है। कितने शर्म की बात है कि जिले का डी.एम. नारी संरक्षण गृह में जाकर जांच करने में अपने को असहाय पाता है। इससे लगता है कि शासन सत्ता से उन पर दबाव रहा होगा। सूरज डूबते ही लड़कियों को बड़ी गाडियों में बिठाकर सफेद अय्याशों के साथ भेज दिया जाता था। उन्हें मुंह खोलने पर मार देने की धमकी दी जाती थी। दर्जनों लड़कियां अभी भी लापता हैं। देवरिया जनपद का जिला एवं पुलिस प्रशासन अपने कर्तव्य पालन में घोर लापरवाह साबित हुआ है। विभाग के बड़े अफसरों के संज्ञान में था कि उक्त नारी संरक्षण गृह अवैध रूप से चल रहा है पर उन्होंने कोई कार्यवाही नहीं की। कागजों में महीनों पहले बंद हो गया था नारी संरक्षण गृह पर बिहार की तरह देवरिया में बच्चियों के शरीर के साथ हैवानियत का खुला खेल चलता रहा। वैसे भाजपा राज का यह घिनौना चरित्र है जो उजागर हुआ है।  

समाजवादी सरकार में अपराध नियंत्रण और महिलाओं की सुरक्षा के लिए जो क्रमशः यूपी डायल 100 तथा 1090 की व्यवस्था की थी उसे भाजपा ने बदले की भावना से बर्बाद कर दिया। उत्तर प्रदेश को बदनाम करने और विकास कार्यों को रोकने में ही भाजपा सरकार अपनी सारी शक्ति खर्च करती रही है। उसने एक भी जनहित का काम नहीं किया है। केवल भाषण और बयान ही उनकी उपलब्धि है। उनकी दूसरी उपलब्धि भ्रष्टाचार और यौनाचार की घटनाओं में वृद्धि है। भाजपा को इसकी कीमत चुकानी पड़ेगी।

सपा करेगी धरना प्रदर्शन : 
वही इस मामले नेता विरोधी दल रामगोविंद चौधरी के नेतृत्व में कल समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता देवरिया में धरना प्रदर्शन करेंगे. सपा की मांग है की घटना की उच्चस्तरीय जांच एवं सम्बन्धित दोषियों के विरूद्ध सख्त कार्यवाही हो  


अधिक राज्य की खबरें