तो क्या नेहरू-गांधी परिवार के सबसे पढ़े-लिखे शख्स हैं राहुल गांधी?
Rahul Gandhi


भारत के सबसे प्रतिष्ठित परिवारों में से एक गांधी-नेहरू परिवार के बारे में अगर पूछा जाए कि इसका सबसे पढ़ा लिखा शख्स कौन रहा होगा? तो कोई भी आसानी से कहेगा, जवाहर लाल नेहरू. लेकिन यह बात कितनी सही है ठहरकर सोचना चाहिए. क्योंकि वर्तमान शिक्षा पद्धति के हिसाब से देखें तो पढ़ाई का आकलन ज्ञान से नहीं बल्कि डिग्रियों से होता है. ऐसे में नेहरू के साथ एक टेक्निकल मामला आ जाता है. क्योंकि मास्टर मानी जाने वाली डिग्री नेहरू-गांधी परिवार में केवल राहुल गांधी के पास ही है. आप खुद ही देख लीजिये कि नेहरू-गांधी परिवार में किसने-कितनी पढ़ाई की है?

जवाहर लाल नेहरू
जवाहर लाल नेहरू अभी तक गांधी-नेहरू परिवार के सबसे ज्यादा पढ़े-लिखे लोगों में से एक है. उन्होंने इंग्लैण्ड की कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी से नेचुरल साइंसेज में ट्राइपॉस किया था. जो कि एक ग्रेजुएशन जैसी डिग्री होती है. इस दौरान उन्होंने कई समाजशास्त्रियों, दार्शनिकों और साहित्यकारों को पढ़ा. जिसके बाद उन्हें 1910 में लंदन के प्रतिष्ठित लॉ स्कूल इनर टेम्पल इन में एडमिशन मिल गया. और 1912 में उन्हें बार की सदस्यता भी मिल गई.

इंदिरा गांधी
इंदिरा गांधी ने शांतिनिकेतन से स्कूली शिक्षा प्राप्त की थी. हालांकि वे पढ़ाई में बहुत खास नहीं थीं. साथ ही लगातार स्वतंत्रता संग्राम से भी जुड़े रहने का असर भी उनकी पढ़ाई पर पड़ता था. उन्होंने उच्च शिक्षा के लिए ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के समरविले कॉलेज में एडमिशन लिया था. वे वहां मॉर्डन हिस्ट्री (आधुनिक इतिहास) पढ़ रही थीं. लेकिन उन्होंने कोर्स बीच में ही छोड़ दिया था और अपनी डिग्री पूरी नहीं की थी.

फिरोज गांधी
पारसी परिवार से आने वाले फिरोज गांधी एक साधारण कांग्रेस कार्यकर्ता थे. 1930 में शहर में कांग्रेस का एक धरना था. कमला नेहरू और इंदिरा गांधी सहित कांग्रेस की कई महिला कार्यकर्ताएं इसमें हिस्सा ले रही थीं. संयोग से यह उसी कॉलेज के बाहर हो रहा था जहां से फीरोज ग्रेजुएशन कर रहे थे. बताते हैं कि तेज धूप में कमला नेहरू बेहोश हो गईं और इस दौरान फीरोज ने उनकी मदद की. फिरोज ग्रेजुएट हैं और ग्रेजुएशन उन्होंने इलाहाबाद के इविंग क्रिश्चियन कॉलेज से किया है.

राजीव गांधी
राजीव गांधी ने ट्रिनिटी कॉलेज, कैम्ब्रिज में 1962 में मैकेनिकल इंजीनियरिंग में एडमिशन लिया और 1965 तक वहां पढ़े भी. लेकिन उन्होंने वहां से डिग्री नहीं ली. इसके बाद उन्होंने 1966 में इम्पीरियल कॉलेज, लंदन में मैकेनिकल इंजीनियरिंग के कोर्स में एडमिशन लिया. लेकिन उन्होंने इसे भी पूरा नहीं किया. राजीव गांधी ने एक बार कहा था कि वे परीक्षा में चोरी करने की इच्छा नहीं रखते थे.

1966 में जिस साल इंदिरा गांधी प्रधानमंत्री बनीं राजीव गांधी भारत लौट आये. इसके बाद वे फ्लाइंग क्लब के सदस्य बने और एक पायलट के तौर पर ट्रेनिंग ली.

सोनिया गांधी
सोनिया गांधी ने इटली में रहते हुए विदेशी भाषाओं (इंग्लिश और फ्रेंच में स्पेशलाइजेशन) किया था. इसके बाद उन्होंने कैम्ब्रिज में भी इंग्लिश की पढ़ाई की.

संजय गांधी
संजय गांधी कभी कॉलेज गये ही नहीं. स्कूल में वे राजीव गांधी से दो साल पीछे थे. संजय गांधी ने स्कूली पढ़ाई पूरी करने के बाद रॉल्स-रॉयस कंपनी में ऑटोमोटिव इंजीनियरिंग की अप्रेंटिसशिप की थी.

मेनका गांधी
मेनका गांधी ने अपना ग्रेजुएशन दिल्ली के श्रीराम कॉलेज से किया था. जहां वे ब्यूटी कांटेस्ट की विजेता भी रही थीं. इसके बाद उन्होंने जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी से जर्मन का कोर्स भी किया था.

राहुल गांधी
राहुल गांधी-नेहरू परिवार के सबसे ज्यादा पढ़े-लिखे लोगों में से एक हैं. उन्होंने कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी के ट्रिनिटी कॉलेज से डेवलपमेंट इकॉनमिक्स में एम.फिल किया है.

प्रियंका गांधी
इन्होंने जीसस एंड मैरी कॉलेज, दिल्ली से साइकोलॉजी में ग्रेजुएशन किया है.

वरुण गांधी
वरुण गांधी ने लंदन यूनिवर्सिटी के लंदन स्कूल ऑफ इकॉनमिक्स एंड पॉलिटिक्ल साइंस (LSE) से इकॉनमिक्स में बीएससी (BSC) किया है.


अधिक देश की खबरें

छत्तीसगढ़ : बीजेपी-कांग्रेस पर अखिलेश का सीधा हमला कहा – बीजेपी और कांग्रेस के नेताओं में है मिलीभगत ..

छत्तीसगढ़ में एक चुनावी जनसभा को सम्बोधित करते हुए सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने भाजपा और कांग्रेस ... ...