अपने परमाणु केंद्र को नष्ट करने को तैयार हैं किम, बशर्ते US भी कदम उठाएः मून
File Photo


दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जेइ-इन ने कहा कि उत्तर कोरिया मिसाइल परीक्षण केंद्र बंद करेगा. प्योंगयांग में उत्तर कोरिया के शासक किम जोंग उन के साथ हुए शिखर सम्मेलन के बाद बुधवार मून ने कहा कि उत्तर कोरिया अपने मिसाइल परीक्षण केन्द्र तोंगचांग-री को बंद करेगा. हालांकि उन्होंने कहा कि इसके लिए शर्त यही है कि अमेरिका भी उसके अनुरूप कदम बढ़ाए.

मून ने कहा, 'उत्तर कोरिया अपने मिसाइल इंजन परीक्षण केन्द्र तोंगचांग-री और मिसाइल प्रक्षेपण केन्द्र को संबद्ध देशों के विशेषज्ञों की उपस्थिति में स्थाई तौर पर बंद करने को राजी हो गया है.'

इससे पहले उत्तर कोरिया और दक्षिण कोरिया के बीच हो रहे शिखर सम्मेलन को लेकर अमेरिका ने बुधवार को आशा जताई कि यह कोरियाई प्रायद्वीप को सार्थक परमाणु निरस्त्रीकरण की दिशा में आगे बढ़ाएगा.

अमेरिकी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हीदर नुअर्ट ने कहा कि जून में सिंगापुर में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ किए गए वादे के सिलसिले में यह किम जोंग उन के लिए आगे बढ़ने का एक मौका है.

दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जेई-इन और उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन प्योंगयांग के बीच बुधवार को बातचीत शुरू हुई थी.  परमाणु निरस्त्रीकरण बातचीत के एजेंडा में शीर्ष था. दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून तीन दिवसीय दौरे पर उत्तर कोरिया के नेता किम से वार्ता करने के लिये प्योंगयांग गए थे. इस साल दोनों नेता तीसरी बार मिले.


अधिक विदेश की खबरें