तीन तलाक अध्यादेश पर आजम खान ने कहा, यही तो भाजपा का चुनावी मुद्दा है
File Photo


लखनऊ, केंद्र सरकार द्वारा तीन तलाक पर अध्यादेश को मंजूरी दिए जाने पर सपा के कद्दावर नेता आज़म खान ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि यही तो भाजपा का चुनावी मुद्दा है. उन्होंने कहा कि जो इस्लामिक शरह के एतबार से जायज है, वही सही है.

आज़म खान ने आगे कहा कि कानून बने या न बने, अल्लाह के कानून से बड़ा कोई कानून नहीं है. बकौल आजम, तलाक के मामले अल्लाह के कानून को ही मानेंगे, अध्यादेश कुरान और शरह की रोशनी में है तो कोई ऐतराज नहीं है.

भागवत के 'मुसलमानों के बिना हिंदुत्व नहीं' बयान पर पलटवार करते हुए सपा नेता ने कहा कि आरएसएस हिंदुत्व का मतलब मुसलमानों पर जुल्म करने को मानती है. उन्होंने कहा कि मुसलमानों को गुजरात दंगों की तरह प्रताड़ित करना, मुसलमानों को अपमानजनक जीवन व्यतीत करने के लिए मजबूर करना, अगर इसके लिए आरएसएस हिंदुत्व के मंसूबे को पूरा करती है तो अमानवीय है और धर्म को बदनाम करना है.

आज़म खान ने तंज कसते हुए कहा कि लगता तो ऐसा ही है कि गुजरात, हापुड़, अलीगढ़ में मारे गए मुसलमानों से हिंदुत्व मजबूत होगा.


अधिक राज्य की खबरें