बाराबंकी गोलीकांड में पीड़ित को नहीं मिला इंसाफ, आत्मदाह की दी धमकी
File Photo


बाराबंकीबाराबंकी गोलीकांड में शुक्रवार को पीड़ित ने पुलिस पर सत्ता पक्ष के एक विधायक के दबाव में काम करने का आरोप लगाया है. पीड़ित का आरोप है कि सत्ता पक्ष के एक विधायक ने मेरी पत्नी और उसके आरोपी भाई को अपने साथ रखा है. विधायक अपने रसूख का इस्तेमाल करके पुलिस पर मेरे खिलाफ ही कार्रवाई करने का दबाव बना रहे हैं. न्याय न मिलने से दुखी होकर पीड़ित अब विधानसभा के सामने आत्मदाह की धमकी दे रहा है.

बता दें कि बीते 30 अप्रैल को जहांगीराबाद थाना क्षेत्र में पॉलीटेक्निक के सामने सर्वेश कुमार नाम के शख्स को गोली मार दी गई थी. जिसमें पीड़ित की तहरीर पर पुलिस ने पंकज कुमार वर्मा पर हत्या के प्रयास का मुकदमा दर्ज किया था. पीड़ित सर्वेश कुमार ने आरोप लगाया कि वारदात के पांच महीने बीत जाने के बाद भी आरोपियों के खिलाफ अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है. पीड़ित का आरोप है कि आरोपी  पंकज कुमार सत्ता पक्ष के एक विधायक का संरक्षण प्राप्त है.

पीड़ित सर्वेश ने बताया कि न्याय की उम्मीद लिए मैं एसपी, डीआईजी और मुख्यमंत्री के पास भी मदद के लिए गया, लेकिन सत्ता पक्ष के विधायक के चलते कोई कार्रवाई नहीं हुई. सर्वेश ने बताया कि मुझे न्याय नहीं मिल रहा जिससे परेशान होकर मैं 20 अक्टूबर को विधानसभा के सामने आत्मदाह कर लूंगा. क्योंकि इस मामले में विधायक और पुलिस आरोपी को बचा रही है और मेरे साथ इंसाफ नहीं हो रहा है.

इस मामने में पुलिस अधीक्षक वीपी श्रीवास्तव का कहना है कि सर्वेश कुमार को गोली लगी थी और थाना जहांगीराबाद में आरोपी पंकज कुमार के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज हुआ था. वारदात के बाद से लगातार पुलिस दबिश दे रही है और बहुत जल्द आरोपी को पकड़ लिया जाएगा. विधानसभा के सामने सर्वेश के आत्मदाह करने की बात पर एसपी ने बताया कि हमने उनको आश्वस्त किया कि आरोपी की बहुत जल्द गिरफ्तार कर लेगी.


अधिक राज्य की खबरें