हाईकोर्ट के पूर्व चीफ स्टैंडिंग काउंसिल की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत
File Photo


लखनऊ, हाईकोर्ट की लखनऊ खंडपीठ के पूर्व चीफ स्टैंडिंग काउंसिल रमेश चंद्र पांडेय की मंगलवार को न्यू हाईकोर्ट के ब्लॉक सी की चौथी मंजिल से गिरकर संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई. उनकी मौत की खबर जैसे ही हाईकोर्ट परिसर में लगी. अफरा-तफरी मच गई. मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. फिलहाल पुलिस घटना की जांच में जुट गई है.

अधिवक्ताओं का कहना है कि उन्होंने खुदकुशी नहीं कि बल्कि हादसे का शिकार हुए हैं. रमेश चंद्र पांडेय कुछ दिन पहले एक हादसे में घायल भी हो गए थे. जिसकी वजह से पैर में लोहे के रॉड पड़े थे. सिर पर गहरी चोट आने से मौके पर ही मौत हो गई. सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने उन्हें राम मनोहर अस्पताल ले गई, लेकिन डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया. आक्रोशित वकीलों ने कहा कि जहां से रमेश चंद्र पांडेय जिस जगह से गिरने की बात बताई जा रही है वहां से कूदना संभव नहीं. अधिवक्ता हत्या का मुकदमा दर्ज करने की मांग कर रहे है.

साथी अधिवक्ताओं के मुताबिक रमेश चंद्र पांडेय काफी दिनों से तनाव में रहते थे. बीते 19 जुलाई को रमेश ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था. जिसे स्वीकार भी कर लिया गया है. इनकी जगह दूसरे व्यक्ति ने कार्यभार गृहण कर लिया है.


अधिक राज्य की खबरें