भूलकर भी ना पहने ऐसे जूते, जानिए जूतों को लेकर क्या हैं अच्छा-बुरा
भूलकर भी ना पहने ऐसे जूते, जानिए जूतों को लेकर क्या हैं अच्छा-बुरा


अक्सर कहा जाता है कि जूते इंसान की छवि बताते है। वहीं लोगों का मानना भी है कि अगर किसी की आर्थिक स्थिति जांचनी हो तो उसके जूते को देखना चाहिए। कुल मिलाकर अच्छे कपड़ो के साथ-साथ अच्छे जूते भी होना जरुरी है। लेकिन ज्योतिषशास्त्र में आपके जूतों को आपके सौभाग्य से जोडक़र देखा जाता है। ज्योतिषशास्त्र में जूतों को लेकर कई बातें बताई गई है। 

वहीं ज्योतिष शास्त्र के अनुसार जूते आपकी किस्मत बदलने में भी अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। इसी कारण जूते पहनते समय इन बातों को ध्यान में रखना आवश्यक होता है। आइए जानते है।


मंदिर में जाते समय ना करें ऐसा...
मंदिर या किसी और जगह से कोई आपके जूते पहन जाए तो आपको वहां से किसी दूसरे के जूते पहनकर नहीं आना चाहिए। अगर आप किसी दूसरे के जूते पहनकर आते हैं तो इससे आप उसकी दरिद्रता और परेशानियां भी अपने साथ ले आते हैं। 


फटे जूते पहनकर नई नौकरी पर नहीं जाएं...
वास्तुशास्त्र के अनुसार, अगर आपके जूते फट गए हैं तो उन्हें न पहनें। ऐसा कहा जाता है कि उधड़े और फटे हुए जूते पहनकर नई नौकरी पर तो बिल्कुल ही नहीं जाना चाहिए, इससे काम में असफलता मिलती है। 


भूरे रंग के जूतों रोकते है तरक्की...
वास्तुशास्त्र के अनुसार, ऑफिस या अपने किसी अन्य कार्यक्षेत्र में भूरे जूते पहनकर जाना सही नहीं माना जाता है। इन स्थानों पर भूरे जूते पहनकर जाने से तरक्की के रास्ते रूकते हैं। अगर कोई आपको तोहफे में जूते देता है तो आपको वो जूते नहीं पहनने चाहिए। 

आपको बता दें कि जूते का संबंध शनि से होता है, अगर आप किसी के दिए हुए जूते पहनते हैं तो उसके ऊपर यदि शनि का प्रकोप चल रहा होता है तो उसका प्रभाव आप पर पडने लगता है।


अधिक धर्म कर्म की खबरें