पाकिस्तानी शख्स ने बांध के लिए दान दिए 8 करोड़ रुपये, कोर्ट ने दिए दिमागी जांच के आदेश
File Photo


पाकिस्तान में शेख शाहिद नाम के शख्स ने जब पाकिस्तान के डैम फंड में 80 मिलियन रुपये (आठ करोड़) की अपनी संपत्ति दान करने का फैसला किया तो उन्हें पता नहीं था कि इससे न केवल उनका परिवार भड़केगा, बल्कि उनकी दिमागी हालत पर भी सवाल उठने लगेंगे. दरअसल शेख शाहिद की पत्नी और उनके तीन बेटों ने इस मामले में सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया. उन्होंने कोर्ट को बताया कि यह संपत्ति उनकी सहमति के बिना दान की गई है. उनकी याचिका पर पाकिस्तान के प्रधान न्यायधीश ने शाहिद के मेडिकल चेकअप का आदेश दिया है.

कोर्ट ने जब दानकर्ता की पत्नी से पूछा कि क्या उसके अपने पति के साथ सहज रिश्ते हैं तो उन्होंने हां में जवाब दिया और कहा कि उनके पति दिमागी रूप से बीमार चल रहे हैं. इसी चलते उन्होंने ये कदम उठाया.

ऐसे में परिवार की आशंकाओं पर विराम लगाने के लिए कोर्ट ने कहा कि उनकी संपत्ति शरिया कानून के तहत दान के रूप में स्वीकार नहीं की जाएगी. इसके साथ ही कोर्ट ने अधिकारियों को शाहिद की मेडिकल जांच कराकर रिपोर्ट जमा करने का आदेश दिया है.

दरअसल पाकिस्तान के लिए पानी के संकट को समाप्त करना सबसे बड़ी चुनौती है. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान देश में बांध बनाने के लिए विदेश में रह रहे पाकिस्तानी नागरिकों से एक हजार डॉलर दान देने की अपील की है.

इमरान खान ने सरकारी टीवी पर दिए एक छोटे से भाषण में विदेशी में बसे पाकिस्तानियों, खासकर अमेरिका और यूरोप में रहने वालों लोगों से सुप्रीम कोर्ट द्वारा स्थापित बांधों के निर्माण के लिए दान देने का आग्रह किया है.


अधिक विदेश की खबरें