तेजप्रताप की जिद से परेशान हैं लालू, रांची से ही रख रहे 'फाइनेंसर' पर नजर
file photo


राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) प्रमुख लालू प्रसाद के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव घर से बगावत कर चुके हैं और ऐसा माना जा रहा है कि वह इस मसले को जल्द सुलझाने के मूड में भी नहीं. पटना आने के बाद भी तेजप्रताप ने जिस तरह की बॉडी लैंग्वेज दिखाई, उससे यह माना जा रहा है कि यादव परिवार को फिलहाल अपने बड़े लड़के को मनाने में काफी मेहनत करनी होगी.

पत्नी ऐश्वर्या राय से तलाक की अर्जी दाखिल करने के बाद से तेजप्रताप अपने ही घर में बागी बन बैठे हैं. यही कारण है कि वह न तो अपने घर गए और न ही उनके परिवार के लोगों से मिलने की कोई खबर मीडिया में आई. लालू के बड़े बेटे जिस तरह पिछले एक महीने से लगातार टूर पर हैं और कभी काशी तो कभी कुरूक्षेत्र में घूम रहे हैं, उसके बाद उनके पिता लालू प्रसाद अब यह पता लगाने में जुटे हैं कि आखिर तेजप्रताप को जगह-जगह घूमने को लिए पैसे कौन मुहैया करा रहा है.

एक तरफ जहां तेजप्रताप के खास दोस्त बुरे दौर में उनके लिए अपने बन गए हैं, तो वहीं तेजप्रताप पटना में होकर भी अपने घर नहीं जा रहे हैं. पटना आने के बाद कुछ दिन तो तेजप्रताप होटल में रुके, लेकिन अब अपने एक खास दोस्त के साथ ही उनके घर में रह रहे हैं. तेजप्रताप चूंकि अपने साथ कई लोगों का काफिला लेकर चलते हैं. ऐसे में लालू को इस बात की भी चिंता सता रही है कि उन्हें आखिर पैसों से मदद कौन कर रहा है.

तेजप्रताप इस पूरे प्रकरण में अपने परिवारवालों के साथ-साथ मीडिया से भी लगातार बच रहे हैं. हालांकि बीच में जब उनकी तलाक की अर्जी वापस लेने की खबर आई तो वह इसका खंडन करने मीडिया के सामने जरूर आए थे. तेजप्रताप जब तलाक मामले की सुनवाई के लिए पटना पहुंचे थे तब लगा कि वह कोर्ट से सीधा घर जाएंगे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ.

मालूम हो कि तेजप्रताप यादव ने अपनी पत्नी ऐश्वर्या से तलाक लेने का फैसला लिया है. इस संबंध में कोर्ट में दिए गए आवेदन को लेकर 29 नवंबर को कोर्ट में उपस्थिति भी दर्ज करा दी है. मामले की अगली सुनवाई जनवरी में होनी है.


अधिक देश की खबरें