IS मॉड्यूल के संदिग्धों को कोर्ट ने 12 दिन के लिए रिमांड पर भेजा
IS मॉड्यूल के संदिग्धों को कोर्ट ने 12 दिन के लिए रिमांड पर भेजा


नई दिल्ली। देश की राजधानी स्थित पटियाला हाउस कोर्ट ने आईएसआईएस से प्रभावित होकर आतंकी मॉड्यूल के सदस्य होने के शक में गिरफ्तार किए गए 10 आरोपियों को 12 दिन के लिए एनआईए के रिमांड पर भेज दिया है। 
एनआईए ने आरोपियों को गुरुवार को कोर्ट में पेश किया और आगे की पूछताछ के लिए उनके 15 दिन की रिमांड की मांग की। बाद में कोर्ट ने सारे आरोपियों को 12 दिन की रिमांड में भेज दिया। 

उल्लेखनीय है कि बुधवार को राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) की टीम ने दिल्ली व उत्तर प्रदेश में 16 ठिकानों पर छापेमारी कर आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) के एक नए मॉड्यूल 'हरकत-उल-हर्ब-ए-इस्लाम' का पदार्फाश किया है और कथित रूप से उत्तर भारत, खासकर दिल्ली में हमला करने की साजिश रचने के आरोप में इसके सरगना सहित 10 संदिग्धों को हिरासत में लिया है। 

छापे सिंभावली, लखनऊ और अन्य स्थानों पर मारे गए और कहा कि उत्तर प्रदेश में एनआईए ने राज्य के आतंकवाद-रोधी दस्ते (एटीएस) के साथ संयुक्त रूप से छापेमारी की और वहां के अमरोहा जिले से पांच लोगों को हिरासत में लिया। अमरोहा में कथित मॉड्यूल सरगनाओं में से एक सुहैल को एक पिस्तौल और विस्फोटक सामग्री के साथ हिरासत में लिया गया था।

सैदपुर इम्मा गांव में छापा मारकर शहीद अहमद के तीन बेटों इदरीस, नफीस और अनीस को एनआईए ने पकड़ा है। शहीद की धनौरा अड्डा पर वेल्डिंग की दुकान है।

अहमद भी एनआईए के रडार में था और इस्लाम नगर के उसके घर पर छापा मारा गया।


अधिक देश की खबरें