गया हत्याकांड: पीड़िता की बहन बोली- पुलिस ने पापा को करंट लगाकर लिया झूठा बयान
File Photo


गया के पटवा टोली में नाबालिग की हत्या और रेप के मामले में हिरासत में ली गई मृतका की बहन को पुलिस ने छोड़ दिया गया है. मृतका की बहन ने मीडिया के सामने पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए हैं. उसने टॉर्चर करने और जोर-जबरदस्ती करके मन मुताबिक बयान दर्ज करवाने का आरोप लगाया है. उसने कहा कि पुलिस ने उसे और उसके पिता को करंट लगाकर जबरन बयान दिलवाया कि 28 दिसंबर को लापता होने के बाद उसकी लापता बहन 31 जनवरी को लौटी थी.

मृतका की बहन ने कहा कि दबाव में आकर मैंने झूठ बोल दिया, क्योंकि पुलिस कह रही थी कि तुमको पागल घोषित कर देंगे, करंट लगाएंगे, माता पिता को मारेंगे. इसके बाद हमने डर के मारे कह दिया कि छोटी बहन 31 दिसंबर को घर लौटी थी. आपको बता दें कि पुलिस पीड़िता के इसी बयान को आधार मानकर मामले को ऑनर किलिंग का मामला बता रही है. पुलिस का दावा है कि मृतका की बड़ी बहन ने बताया है कि लड़की 31 दिसंबर को वापस लौटी थी. लड़की के पिता ने उसके एक दोस्त के साथ उसे बाहर भेजा था.

मृतका की बहन ने साफ कहा कि उसकी बहन की दोस्ती किसी से नहीं थी, ये सब पुलिस का झूठ है. मेरी बहन 28 तारीख को जो गई फिर वापस नहीं आई, हमने तो उसकी लाश भी नहीं देखी. मेरा बहन कहीं अकेले नहीं जाती थी ये सब पुलिस गलत कह रही है. मैंने सब पुलिस के दबाव में सब झूठा बयान दिया था. मैंने अपनी जान बचाने के लिए ये सब बोला. गौरतलब है कि 28 दिसंबर को लापता नाबालिग लड़की के लापता होने के बाद पुलिस 6 जनवरी को उसका क्षत-विक्षत शव बरामद किया था.


अधिक राज्य की खबरें