परिवारवाद के चलते अखिलेश यादव के समर्थन में मायावती से मिले तेजस्वी यादव: बीजेपी
file photo


लोकसभा चुनावों के लिए यूपी में सपा बसपा गठबंधन के ऐलान के बाद बिहार की राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव लखनऊ पहुंचे. यहां तेजस्वी यादव ने सबसे पहले बसपा सुप्रीमो मायावती से मुलाकात की और गठबंधन बनाने की बधाई दी. इसके बाद तेजस्वी यादव ने अखिलेश यादव से भी मुलाकात की और बीजेपी पर जमकर हमला बोला. उधर बीजेपी ने तेजस्वी के लखनऊ दौरे को सिर्फ अखिलेश यादव के समर्थन में उठाया गया कदम करार दिया है.

बीजेपी के प्रवक्ता चंद्रमोहन ने कहा कि जातिवादी और परिवारवादी राजनीति के पर्याय लालू प्रसाद के पुत्र तेजस्वी यादव का उत्तर में आकर भ्रष्टाचार की नायिका और दौलत की बेटी मायावती से मिलने का कोई राजनीतिक मायने नहीं हैं. केवल अखिलेश यादव के समर्थन के लिए तेजस्वी यादव मायावती से मिलने आए. चूंकि अखिलेश उत्तर प्रदेश में और तेजस्वी बिहार में परिवारवाद और जातिवाद की राजनीति करते हैं. दोनों रिश्तेदार भी हैं. इससे ज्यादा इसका कोई राजनीतिक मायने उत्तर प्रदेश के संदर्भ में बिलकुल भी नहीं है.

उधर तेजस्वी यादव ने सोमवार को लखनऊ में सपा प्रमुख अखिलेश यादव से मुलाकात की. बंद कमरे में हुई मुलाकात के बाद दोनों नेता मीडिया से मुखातिब हुए. इस दौरान अखिलेश यादव ने कहा कि पूरे देश में सपा और बसपा के गठबंधन करने से खुशी की लहर है. तेजस्वी का धन्यवाद कि वह पटना से चल कर आये हैं.


अधिक राज्य की खबरें