हॉर्स ट्रेडिंग से येदियुरप्पा का इनकार, BJP विधायक बोले- हम कर रहे 'आग में घी डालने' की कोशिश
File Photo


कर्नाटक में सत्तारूढ़ कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन और बीजेपी के बीच जारी शक्ति संघर्ष में दोनों ही पक्ष एक दूसरे पर विधायकों की खरीद-फरोख्त का आरोप लगा रहे हैं. इस बीच कर्नाटक बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष बीएस येदियुरप्पा ने राज्य में कांग्रेस-जेडीएस की सरकार को गिराने की कोशिश के आरोपों से इनकार किया है.

चिक्कमगलुरु के भाजपा विधायक सीटी रवि ने गुरुवार को कहा कि कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन के भीतर असंतोष है. जेडीएस-कांग्रेस गठबंधन अपना घर संभालने में फेल हुआ है और आरोप बीजेपी पर लगा रहा है. उन्होंने कहा, 'निश्चित तौर पर हम कांग्रेस और जेडीएस के बीच लगी आग में घी डालने की कोशिश करेंगे ताकि दोनों के बीच की दरार और बढ़ सके. हमें सरकार बनाने का मौका मिलना चाहिए था. यह राजनीति है. हम यहां चैरिटी करने के लिए नहीं हैं.'

पूर्व मंत्री ने कहा, 'हमनें 104 सीटें जीतीं. आपने साधारण गणित के कारण सरकार बनाई. आपकी पार्टी में असहमति है और उस आग में घी डालना हमारी राजनीति है. जब आपके विधायक आपके साथ नहीं हैं तो हमें दोष क्यों दे रहे हैं. '

भाजपा विधायक सीटी रवि ने कांग्रेस और जेडीएस को चुनौती दी कि वे असंतुष्ट विधायकों के खिलाफ कार्रवाई करें. उन्होंने कहा कि राज्य में मौजूदा राजनीतिक संकट की वजह 'अस्वाभाविक गठबंधन' है. कांग्रेस का दावा है कि उसका कोई विधायक इस्तीफा नहीं दे रहा है. एक तरफ वे कह रहे हैं कि उनके सारे विधायक एकजुट हैं और दूसरी तरफ बीजेपी पर खरीद-फरोख्त का आरोप लगा रहे हैं.

रवि ने 2006 में जेडीएस छोड़कर कांग्रेस में शामिल होने के लिए सिद्धारमैया पर सवाल उठाया है. उन्होंने कहा, ' क्या वह खरीद थी या नीलामी? जो राजनीति आप पहले करते आए हैं, अब हम वहीं कर रहे हैं.'

गुरुग्राम के एक रिसॉर्ट में बीजेपी विधायकों के ठहरने के बारे में विरोधियों के आरोपों का जवाब देते हुए उन्होंने कहा, 'हम वहां पर राजनीति का अध्ययन करने गए थे.'

गुरुग्राम के एक रिसॉर्ट में बीजेपी विधायकों को ठहराने के आरोपों पर उन्होंने कहा, 'हम वहां पर राजनीति का अध्ययन करने गए थे.' बता दें कि रवि उन बीजेपी विधायकों में से एक हैं जो पिछले तीन दिनों से गुरुग्राम के एक रिसॉर्ट में डेरा जमाए हुए थे. वहीं बीजेपी ने कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन पर अपने विधायकों को साधने का आरोप लगाया है. बीएस येदियुरप्पा गुरुग्राम से बुधवार देर रात बेंगलुरु लौटे. जबकि पार्टी के लगभग 10 से ज्यादा विधायक गुरुवार को बेंगलुरु और अपने निर्वाचन क्षेत्र लौट चुके हैं.


अधिक देश की खबरें