बजट सत्र के दौरान जमकर हंगामा, CM योगी बोले- कम नहीं हुई सपा की गुंडागर्दी
file photo


उत्तर प्रदेश विधानमंडल के बजट सत्र की शुरुआत मंगलवार को हंगामेदार हुई. राज्यपाल राम नाईक के अभिभाषण के दौरान विपक्षी सदस्यों ने उनकी ओर कागज के गोले उछाले और नारेबाजी की. बजट सत्र शुरू होने से पहले सपा-बसपा विधान भवन में मिलकर प्रदर्शन कर रहे हैं. इस दौरान आजम खां और रामगोविंद चौधरी मौजूद रहे. आजम ने केंद्र और राज्य सरकार पर जमकर हमला किया. राज्यपाल ने सदन में जैसे ही अभिभाषण पढ़ना शुरू किया, विपक्षी सदस्यों ने हंगामा शुरू कर दिया. और कागज के गोले फेंके. हालांकि राज्यपाल की ओर फेंके गये कागज के गोले उन तक नहीं पहुंच सके और सुरक्षाकर्मियों ने फाइल कवर के सहारे उन्हें रोक लिया.

विपक्षी सदस्यों के लगातार शोरगुल के बीच राज्यपाल ने अभिभाषण पढ़ना जारी रखा और प्रदेश सरकार की विभिन्न योजनाओं और उपलब्धियों के बारे में सिलसिलेवार ब्यौरा पेश किया. समाजवादी पार्टी ने वेल में आकर बैनर और प्लेकर्ड लहराये. सीएम योगी ने कहा कि सदन की परंपरा के अनुसार आज विधानसभा में राज्यपाल के संयुक्त अभिभाषण के दौरान बजट सत्र की शुरुआत हुई है. लेकिन उनके अभिभाषण के दौरान विपक्ष का आचरण बेहद निंदनीय है.

संसदीय लोकतंत्र की गरिमा इस प्रकार के आचरण से गिरती है, सपा के सदस्यों ने गुंडागर्दी करते हुए पेपर बॉल फेंके और राज्यपाल पर प्रहार करने की कोशिश की. सीएम योगी ने कहा कि सपा अभी भी अपनी गुंडागर्दी के आचरण से बाज नहीं आ रही है.

सपा-बसपा-कांग्रेस का आचरण लोकतंत्र को कमजोर करता है, इससे साबित होता है कि इन सभी की निष्ठा लोकतंत्र में नहीं है. वहीं ममता बनर्जी पर उन्होंने कोई बयान नहीं दिया. सत्र के दौरान राज्य के वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने बताया कि सरकार अगले वित्त वर्ष के लिए अपना बजट 7 फरवरी को पेश करेगी. सत्र 22 फरवरी तक चलना प्रस्तावित है. बता दें कि आदित्यनाथ सरकार का यह तीसरा बजट होगा.


अधिक राज्य की खबरें