अमेरिका छीन सकता है भारत से 'ज़ीरो टैरिफ' एक्सपोर्ट की सुविधा
File Photo


भारत को अमेरिका जल्द ही निर्यात के क्षेत्र में बड़ा झटका दे सकता है. खबर है कि अमेरिका भारत के 5.6 बिलियन डॉलर यानी 560 करोड़ के निर्यात पर जीरो टैरिफ की सुविधा खत्म कर सकता है. दरअसल, भारत को अमेरिका की ओर से एक तरह की व्यापारिक रियायत मिली हुई है, जिसके तहत भारत जीरो टैरिफ की सुविधा उठा पाता है.

रॉयटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप जेनेरलाइज्ड सिस्टम ऑफ प्रिफरेंस (जीएसपी) को भारत से वापस ले सकते हैं. ये बेनेफिट स्कीम है, जिसका फायदा भारत को 1970 के दशक से मिलता रहा है. ट्रंप ने कहा था कि वो बड़ी अर्थव्यस्थाओं के साथ होने वाले अमेरिकी घाटों को कम करेंगे. 2017 में ऑफिस संभालने के बाद से ट्रंप का ये अब तक का ऐसा सबसे बड़ा फैसला होगा, जिससे भारत को बहुत बड़ा नुकसान होगा. वैसे भी ट्रंप की नजरें पहले ही भारत की ऊंचे टैरिफ पर रही हैं.

कहा जा रहा है कि भारत-अमेरिकी संबंधों में ये उतार भारत की नए ई-कॉमर्स नियमों की वजह से आया है. भारत के इन नए नियमों की वजह से अमेरिका की ऑनलाइन मार्केटिंग की कंपनियों को भारत में बिजनेस करने में दिक्कत आएगी.

रिपोर्ट में एक सूत्र के हवाले से कहा गया है कि अगर अमेरिका लगभग 2,000 भारतीय उत्पादों को जीरो टैरिफ की लिस्ट से बाहर कर देता है, जो ड्यूटी फ्री हैं तो इससे भारत के छोटे बिजनेसेस को नुकसान होगा. अपने इस कदम में अमेरिका जेनेरलाइज्ड सिस्टम ऑफ प्रिफरेंस में या तो प्रोडक्ट कम कर सकता है या हो सकता है कि पूरा प्रोग्राम ही वापस ले ले.


अधिक विदेश की खबरें