भाजपा के खिलाफ एकजुट हो विपक्षी पार्टियां : अखिलेश
अखिलेश यादव ने भाजपा को हराने की रणनीति बनाने के साथ इन क्षेत्रों की चुनावी राजनीतिक स्थिति पर चर्चा की।


Lucknow : समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज चंदौली, मिर्जापुर, वाराणसी और सोनभद्र के प्रमुख कार्यकर्ताओं एवं नेताओं से भाजपा को हराने की रणनीति बनाने के साथ इन क्षेत्रों की चुनावी राजनीतिक स्थिति पर चर्चा की। वाराणसी प्रधानमंत्री का निर्वाचन क्षेत्र होने से समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी-राष्ट्रीय लोक दल के गठबंधन के लिए भी महत्वपूर्ण है और इस क्षेत्र में समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी की जीत से देश को नया प्रधानमंत्री मिलने का रास्ता प्रशस्त हो जायेगा। 

समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं एवं नेताओं का अखिलेश यादव ने आह्वान किया कि लोकसभा की 80 की 80 सीटों पर हर हाल में जीत सुनिश्चित करें। गठबंधन में शामिल दलों के साथ समन्वय और सहयोग से भाजपा की हर चाल को विफल करते हुए अपने प्रत्याशी को भारी बहुमत से जिताने के लिए एकजुट हों। उन्होंने कहा कि मतदाता ही भाग्यविधाता है इसलिए बूथस्तर पर ‘‘समाजवादी बूथ रक्षक‘‘ पूरी मजबूती से मतदान स्थलों पर डटकर वोट की लूट न होने दें। बिना शोर शराबा किए चुपचाप शांतिपूर्ण ढंग से निष्पक्ष एवं स्वतंत्र मतदान हो सके, इसका हर कार्यकर्ता ध्यान रखें।

अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा ने राजनीति के नैतिक चरित्र को बिगाड़ा है। भाजपा राज में आतंकवाद पर नियंत्रण नहीं हो सका। देश की सुरक्षा से जुड़े राफेल विमान के सौदे से सम्बन्धित फाइलों के चोरी हो जाने की घटना बहुत गंभीर है। भाजपा अपनी कथित उपलब्धियों पर जनता के सामने उसकी कलई एक-एक कर खुलती जा रही है।

श्री यादव ने कहा कि भाजपा नफरत और समाज को बांटने का काम करती है। जबकि समाजवादी पार्टी-बहुजन समाज पार्टी-राष्ट्रीय लोक दल का गठबंधन विचारों का गठबंधन है। यह गठबंधन एकाधिकारवादी व्यवस्था को शिकस्त देने का काम करेगा। भाजपा ने अब तक वादाखिलाफी और मुद्दों से बहकाने का ही काम किया है। नौजवानों को बेरोजगार बनाया है। मंहगाई बढ़ी है। उस पर सर्जिकल स्ट्राईक कब होगी? और किसान ज्यादा बेहाल जिन्दगी जीने को अभिशप्त है। उसकी आय दुगनी नहीं हुई। भ्रष्टाचार पर रोक नहीं लगी है। 

अखिलेश यादव ने कहा है कि भारत इस समय लोकतंत्र की अग्निपरीक्षा से गुजर रहा है। स्वाधीनता आंदोलन के तमाम आदर्शों एवं मूल्यों पर आघात पहुंचाने की साजिश है। संवैधानिक संस्थाओं को कमजोर किया जा रहा है। भाजपा के अमर्यादित आचरण एवं असंयमित भाषा के प्रयोग से सामाजिक वातावरण दूषित हो रहा है। ठोकों और घर में घुसकर मारेंगे जैसी भाषा प्रयुक्त हो रही है और बात भाजपा नेताओं के बीच जूतमपैजार तक पहुंच रही है। जनता जानना चाहती है कि उसकी सुरक्षा का क्या होगा? जो वादे किए थे उन्हें पूरा करने की भाजपा की नीयत कभी नहीं रही।

श्री यादव ने पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा कि झूठ, अफवाह और साजिशों के मामले में भाजपा का कोई जवाब नहीं है। भाजपा का हथियार है पैसा और झूठ के आधार पर मतदाताओं में भ्रम फैलाना। वह मुद्दों को भटकाने में मास्टर है। आज संविधान बचाने और संविधान से मिले अधिकारों को बचाने की लड़ाई है। ढाई लोग देश को डराने में लगे है। ये लोकतंत्र के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं। समाजवादी पार्टी-बहुजन समाज पार्टी-राष्ट्रीय लोक दल का गठबंधन खुशहाली और तरक्की लाने के लिए बना गठबंधन है। यह गठबंधन जनआकांक्षाओं पर खरा उतरेगा।


अधिक राज्य की खबरें