लोकसभा चुनाव 2019 : कन्नौज से चुनाव लड़ेंगी डिंपल, अखिलेश यादव ने जारी की 3 उम्मीदवारों की लिस्ट
कन्नौज से काफी मशक्कत के बाद महज 19 हजार 907 वोटों के अंतर से जीती थीं डिंपल


लखनऊ  : लोकसभा चुनाव (2019) को देखते हुए उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी (एसपी) और बहुजन समाज पार्टी के बीच गठबंधन हुआ। एसपी ने अपने खाते की 37 सीटों में से 6 सीटों के बाद तीन और लोकसभा सीटों पर प्रत्याशियों के नाम की घोषणा कर दी है। इस तरह एसपी कुल 9 सीटों पर अपने प्रत्याशियों के नाम का ऐलान कर चुकी है। बता दें कि समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अपने ऑफिशल अकाउंट से एक ट्वीट किया है।

अखिलेश यादव ने ट्वीट किया, 'इंटरनैशनल विमिंज डे के मौके पर समाजवादी पार्टी ने समानता के अधिकार पर किए गए वादे को निभाते हुए इन महिलाओं को लोकसभा चुनाव में बतौर प्रत्याशी चुनावी रण में उतारा है। यह ऐलान करते हुए हमें गर्व की अनुभूति हो रही है।' इस तस्वीर में अखिलेश यादव के साथ उनकी पत्नी और वर्तमान में कन्नौज से सांसद डिंपल यादव नजर आ रही हैं। एसपी प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने बताया कि डिंपल यादव कन्नौज से फिर चुनावी मैदान में उतरेंगी। इनके इतर लखीमपुर खीरी से पूर्वी वर्मा और हरदोई से ऊषा वर्मा को उम्मीदवार बनाया गया है। 



6 सीटों पर एसपी ने इन चेहरों को बनाया प्रत्याशी 
समाजवादी पार्टी ने बदायूं सीट से धर्मेंद्र यादव, फिरोजाबाद से पार्टी महासचिव राम गोपाल यादव के पुत्र अक्षय यादव, बहराइच से शब्बीर बाल्मीकि, रॉबर्ट्सगंज से भाईलाल कोल और इटावा सीट से कमलेश कठेरिया को उम्मीदवार बनाया है। उधर, समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव को मैनपुरी से चुनावी मैदान में उतारा गया है। 

ऐसा रहा है सीट का 2014 में हिसाब-किताब 
बता दें कि कन्नौज लोकसभा सीट से वर्ष 2014 में डिंपल यादव महज 19 हजार 9 सौ सात वोटों के अंतर से जीती थीं। उनका निकटतम प्रतिद्वंद्वी से जीत का अंतर महज 1.80 फीसदी मतों का था। बात की जाए लखीमपुर खीरी लोकसभा सीट की तो यहां वर्ष 2014 में बीजेपी के अजय कुमार मिश्रा ने 1 लाख 10 हजार दो सौ 74 वोटों के अंतर से जीत अपने नाम की थी। 2014 में हरदोई लोकसभा सीट से अंशुल वर्मा ने बीजेपी के बैनर तले 81,343 मतों के अंतर से जीत दर्ज की थी। 


अधिक राज्य की खबरें