मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली चुनाव आयोग से नाराज
रमजान के बीच लोकसभा चुनाव होने पर इमाम मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने नाराजगी जताई


लखनऊ। रमजान के बीच लोकसभा चुनाव होने पर ईदगाह इमाम मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने नाराजगी जताई है। उन्होंने चुनाव आयोग से मुसलमानों की भावना का खयाल रखने और चुनाव तिथि रमजान माह से पहले या बाद में करने की मांग की है। 
बीती देर रात मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने कहा, 5 मई को मुसलमानों के सबसे पवित्र महीना रमजान का चांद देखा जाएगा। चांद दिख जाता है तो 6 मई को पहला रोजा होगा। रोजे के दौरान देश में 6 मई, 12 मई व 19 मई को मतदान की घोषणा की गई है। इससे करोड़ों रोजेदारों को परेशानी होगी। उन्होंने चुनाव आयोग से 6, 12 व 19 मई को होने वाले मतदान की तिथि बदलने पर विचार करने की मांग की है।ज्ञात हो कि रविवार को चुनाव आयोग ने लोकसभा चुनाव 2019 के लिए तारीखों का एलान कर दिया गया है। चुनाव सात चरणों में होगा। मतदान का पहला चरण 11 अप्रैल को व आखिरी चरण 19 मई को होगा। मतगणना 23 मई को होगी।दिल्ली में मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने पत्रकार वार्ता में बताया कि इस बार करीब 90 करोड़ मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। जिसके लिए करीब 10 लाख पोलिंग बूथ बनाए जाएंगे। इस बार वोटिंग मशीन में वीवीपैट भी लगाई गई है और उम्मीदवारों की तस्वीर भी नजर आएगी।चुनाव का पहला चरण 11 अप्रैल को, दूसरा चरण 18 अप्रैल को, तीसरा चरण 23 अप्रैल को, चैथा चरण 29 अप्रैल को, पांचवा चरण 6 मई, छठा चरण 12 मई को व सातवां चरण 19 मई को होगा। वहीं, उत्तर प्रदेश में मतदान सात चरणों में होगा।


अधिक राज्य की खबरें