राहुल गांधी ने रॉबर्ट वाड्रा के सवाल पर कहा, कानून सबके लिए बराबर है
राहुल गांधी ने रॉबर्ट वाड्रा के सवाल पर कहा, कानून सबके लिए बराबर है


चेन्नई। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा है कि मेरा मानना है कि हमारे सभी संस्थानों को विचारों की आजादी होनी चाहिए। हमें किसी भी सोच को आंख बंद करके स्वीकार नहीं करना चाहिए। और यही हमारी शिक्षा प्रणाली का ढांचा होना चाहिए । यह बात राहुल गांधी ने चेन्नै में महिला स्टूडेंट्स के बीच पहुंचकर कही। ।
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने जींस और टीशर्ट पहने हुए थे। राहुल गांधी प्रश्न पूछनेवाली छात्राओं से राहुल सर की जगह पर सीधे राहुल से संबोधित करने की अपील करने पर कॉलेज छात्राओं ने तालियां बजाकर उनका स्वागत किया। राहुल गांधी ने कहा कि आने वाले चुनाव विचारधारा की लड़ाई है। यह बांटने की नीति के खिलाफ जोडऩे की नीति के बीच है। कांग्रेस अध्यक्ष ने इस दौरान दक्षिण भारत में महिलाओं की स्थिति की तारीफ की। 

महिला आरक्षण बिल पर मौजूदा सरकार को घेरा और कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि महिलाएं पुरुषों से अधिक स्मार्ट होती हैं। रॉबर्ट वाड्रा पर पूछे सवाल के जवाब में राहुल ने बेहद सख्त अंदाज में कहा कि मिस्टर वाड्रा की जांच होनी चाहिए, मैं पहला इंसान हुूं जो यह कह रहा हूं। प्रधानमंत्री मोदी पर भी जांच होनी चाहिए।

कांग्रेस अध्यक्ष गांधी से एक छात्रा ने देश की महिलाओं की स्थिति पर सवाल पूछा। इसके जवाब में कांग्रेस अध्यक्ष ने बताया कि दक्षिण भारत में महिलाओं की स्थिति उत्तर भारत के राज्यों जैसे उत्तर प्रदेश, बिहार से बहुत बेहतर है। खास कर तमिलनाडु में महिलाओं की स्थिति अच्छी है। इस पर छात्राओं ने ताली बजाकर राहुल का स्वागत किया।


अधिक देश की खबरें

इस सरकार का हुआ सूर्यास्त, लेकिन इसकी लालिमा से लोगों की जिंदगी रोशन रहेगी: PM मोदी..

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा केंद्रीय मंत्रियों का इस्तीफा स्वीकार कि‍ए जाने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ... ...