US ने चेताया, आतंकी मसूद पर बैन नहीं लगा तो शांति मिशन फेल हो जाएगा
US ने चेताया, आतंकी मसूद पर बैन नहीं लगा तो शांति मिशन फेल हो जाएगा


नई दिल्ली। अमेरिका पुलवामा आतंकी हमले के गुनाहगार जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को घेरने के लिए भारत का लगातार साथ दे रहा है। अमेरिका ने चीन को कहा कि मसूद अजहर ग्लोबल आतंकी घोषित होना चाहिए। अमेरिका की ओर से बयान में कहा गया है कि भारत-अमेरिका साथ में काम कर रहे हैं। जैश-ए-मोहम्मद के अंतरराष्ट्रीय आतंकी संगठन है और मसूद उसका सरगना है ऐसे में उसे भी ग्लोबल आतंकी घोषित किया जाना चाहिए। मसूद अजहर भारतीय उपमहाद्वीप में शांति के लिए खतरा बना हुआ है। 

आपको बताते जाए कि संयुक्त राष्ट्र की सुरक्षा समिति की बैठक में यह तय हो जाएगा कि मसूद अजहर को ग्लोबल आतंकी घोषित किया जाए या नहीं। भारत के इस प्रयास में अमेरिका खुलकर सामने आ गया है। अमेरिकी विदेश विभाग के प्रवक्ता रॉबर्ट ने अपने बयान में कहा कि अमेरिका और चीन इस बात पर सहमत हैं कि क्षेत्र में शांति स्थापित होनी चाहिए। अगर जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर पर बैन नहीं लगता है कि शांति का मिशन फेल हो जाएगा।

आपको बताते जाए कि भारतीय विदेश सचिव विजय गोखले अभी अमेरिका में ही हैं और उन्होंने यूके विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो से मुलाकात की है। माना जा रहा है कि मसूद अजहर के मामले को लेकर भारत काफी सख्त रुख है। यही कारण है कि उसे ग्लोबल आतंकी घोषित कराए जाने की कोशिशें की जा रही है ।

आपको बताते जाए कि 14 फरवरी को हुए पुलवामा आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे। भारत पाकिस्तानी समर्थित आतंकियों पर हमलावर है। इसी घटना के बाद भारतीय वायुसेना ने 26 फरवरी को बालाकोट में एयर स्ट्राइक कर दी थी।


अधिक राज्य की खबरें