इस धर्मयुद्ध का सबसे बड़ा मैदान : योगी
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ


लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश की जनता बेहद समझदार है। समय-समय पर उसने इसे साबित भी किया है। सर्वाधिक लोकसभा सीटें होने के नाते उप्र इस धर्मयुद्ध का सबसे बड़ा मैदान भी है। लिहाजा यहां की जनता से पूरे देश को अपेक्षा भी है। आंकड़े झूठ नहीं बोलते। अगर आंकड़ों के आधार पर जनता विपक्ष से सवाल पूछे तो वह भाग खड़े होंगे। अकेले तीन करोड़ से अधिक लाभार्थी ही विपक्ष की सारी गणित गड़बड़ करने में सक्षम हैं। सपा-बसपा और कांग्रेस को वोट देना खुद के पैर पर कुल्हाड़ी मारना है, जनता ऐसा करने से रही।
एक बयान जारी कर मुख्यमंत्री ने कहा कि अपने बयान के प्रमाण में योगी ने तुलनात्मक आंकड़ों का भी जिक्र करते हुए कहा कि हमने 23 माह में गरीबों को 23 लाख रिकार्ड प्रधानमंत्री आवास बनवाए। करीब इतने ही समय में अखिलेश की सरकार सिर्फ 63 हजार आवास बनवा सकी। इसी तरह भाजपा सरकार में 1.71 करोड़ शौचालय बने, सपा में यह संख्या मात्र 40 लाख की रही। सपा शासनकाल में एक भी गरीब का घर रोशन नहीं हुआ, जबकि हमने एक करोड़ गरीबों को बिजली के कनेक्शन दिये।अपने बयान में मुख्यमंत्री ने गेहूं, धान और गन्ने की रिकार्ड खरीद और भुगतान, प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना के तहत पहली किस्त के रूप में प्रदेश के 1.3 करोड़ किसानों के खाते में पहली किस्त के रूप में 2000 रुपये भेजने, प्रमुख खाद्यान्नों के न्यूनतम समर्थन मूल्य में लागत के आधार पर डेढ़ गुना तक की वृद्धि आदि उपलब्धियों की चर्चा की।मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि भव्य और दिव्य कुंभ के आयोजन, वर्ष 2013 की तुलना में तीन गुना श्रद्धालुओं के आने के बावजूद इसके सकुशल संपन्न होने की तारीफ देश ही नहीं दुनिया भी कर रही है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि एक बार फिर मोदी सरकार। अपने ट्वीटर अकाउंट पर योगी ने कविता के रूप में अपनी भावनाएं प्रकट करते हुए लिखा है कि श्जाति न धर्म, न ऊंच न नीच। हम पहुंचा रहे विकास सबके बीच। हिंदुस्तान कर रहा अभिमान, उत्तर प्रदेश गढ़ रहा नए प्रतिमान, रच रहा नई पहचान। आओ मिल सब साथ बढ़ें, आओ मिल सब साथ चलें। नए सफर पर उत्तर प्रदेशश् अंत में उन्होंने लिखा है कि उत्तर प्रदेश 74 पार, एक बार फिर मोदी सरकार।


अधिक राज्य की खबरें

पॉलिटेक्निक प्रवेश परीक्षा : गणित व फिजिक्स के प्रश्नों ने अभ्यर्थियों को उलझाया..

प्रदेश के राजकीय, सहायता प्राप्त व प्राइवेट पॉलिटेक्निक में दाखिले के लिए छात्र-छात्राओं ने परीक्षा में हिस्सा ... ...