नीरव मोदी किसी भी वक़्त हो सकते है गिरफ्तार, लंदन की अदालत से अरेस्ट वॉरंट जारी
एजेंसियां लंबे समय से नीरव मोदी का ब्रिटेन से प्रत्यर्पण कराने की कोशिश में जुटी हैं


लंदन : पंजाब नैशनल बैंक (PNB) में 13 हजार करोड़ रुपये से अधिक के घोटाले के मुख्य आरोपी नीरव मोदी पर शिंकजा कस गया है। घोटाले को अंजाम देकर ब्रिटेन में रह रहे अरबपति जूलर के खिलाफ लंदन के वेस्टमिंस्टर कोर्ट ने गिरफ्तारी वॉरंट जारी कर दिया है। सूत्रों ने बताया कि नीरव को किसी भी वक्त गिरफ्तार किया जा सकता है। 

अधिकारियों ने बताया कि मनी लॉन्ड्रिंग के एक मामले में उसे (नीरव मोदी) प्रत्यर्पित करने के प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के अनुरोध के जवाब में उसके खिलाफ गिरफ्तारी वॉरंट जारी किया गया है। अधिकारियों ने बताया कि जांच एजेंसी को हाल में वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट अदालत द्वारा वारंट जारी करने के बारे में सूचित किया गया था और नीरव मोदी को जल्द ही स्थानीय पुलिस (लंदन मेट्रोपॉलिटन पुलिस) द्वारा गिरफ्तार किया जा सकता है। 

उन्होंने बताया कि कुछ दिन पहले वारंट जारी किया गया और बाद में ईडी को सूचित किया गया था। उन्होंने बताया कि गिरफ्तारी के बाद नीरव मोदी जमानत के लिए अदालत के सामने लाया जाएगा और उसके प्रत्यर्पण के लिए कानूनी कार्यवाही उसके बाद शुरू होगी। 

सीबीआई ने भी इंटरपोल और यूके अथॉरिटीज से सम्पर्क साधकर भगोड़े कारोबारी के खिलाफ जारी रेड कॉर्नर नोटिस पर कार्रवाई कर तुरंत गिरफ्तारी की मांग की थी। एजेंसियां लंबे समय से नीरव मोदी का ब्रिटेन से प्रत्यर्पण कराने की कोशिश में जुटी हैं। यूके से मोदी के प्रत्यर्पण की आधिकारिक मांग पिछले साल जुलाई/अगस्त में की गई थी। 

भगोड़ा हीरा कारोबारी नीरव मोदी लंदन में शानो-शौकत की जिंदगी जी रहा है। खबर है कि वह लंदन के वेस्ट एंड इलाके के जिस अपार्टमेंट में रह रहा है उसकी कीमत 73 करोड़ रुपये के आसपास है। हाल ही में वह मीडिया के कैमरे में कैद हुआ था।'द टेलिग्राफ' के एक विडियो में नीरव मोदी लंदन की सड़कों पर बेफिक्र होकर घूमता दिखा था। 

अखबार की रिपोर्ट कहती है कि नीरव मोदी ने अपने आवास से कुछ दूरी पर ही हीरे का नया कारोबार शुरू किया है, जो उसके फ्लैट से जुड़ा हुआ है। मई 2018 उसने नई कंपनी बनाई, जो उसके अपार्टमेंट से लिंक्ड है। यह कंपनी घड़ी और जूलरी का होलसेल और रिटेल कारोबार करने के लिए लिस्टेड है।


अधिक विदेश की खबरें