PM मोदी का कांग्रेस पर हमला, एक वंश की रक्षा के लिए किसी हद तक गए
PM मोदी का कांग्रेस पर हमला, एक वंश की रक्षा के लिए किसी हद तक गए


नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को ब्लॉग लिखकर कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि उनके कार्यकाल के दौरान कई काम ऐसे हुए हैं जो कांग्रेस सरकारों के दौरान नहीं हुए थे। उन्होंने इसके साथ वंशवाद, लोकतंत्र और संसद सहित कई विषयों को लेकर कांग्रेस पर निशाना साधा है। 

प्रधानमंत्री मोदी ने लिखा कि इमरजेंसी लागू कर कांग्रेस ने साबित किया कि वह एक वंश की रक्षा करने के लिए किस हद तक जा सकती है। 2014 में देशवासी इस बात से बेहद दुखी थे कि हम सबका प्यारा भारत आखिर फ्रेजाइल फाइव देशों में क्यों है? क्यों किसी सकारात्मक खबर की जगह सिर्फ भ्रष्टाचार, चहेतों को गलत फायदा पहुंचाने और भाई-भतीजावाद जैसी खबरें ही हेडलाइन बनती रहती थीं। 

उन चुनाव में आम चुनाव में देशवासियों ने भ्रष्टाचार में डूबी उस सरकार से मुक्ति पाने और एक बेहतर भविष्य के लिए मतदान किया था, वर्ष 2014 का जनादेश ऐतिहासिक था।

भारत के इतिहास में पहली बार किसी गैर वंशवादी पार्टी को पूर्ण बहुमत मिल गया था। पीएम मोदी ने अपने ब्लॉग में संसद के कामकाज, प्रेस की अभिव्यक्ति, संविधान-न्यायालय और सरकारी संस्थानों के मुद्दे पर कहा कि लोकसभा में गैर वंशवादी सरकार थी। इसलिए काम हुआ जबकि राज्यसभा में काम नहीं हुआ पाया क्योंकि वहां हंगामा होता रहा। 

मोदी ने आगे लिखा कि यूपीए सरकार सीबीआई, आईबी और रॉ जैसी संस्थाओं का समय पर दुरुपयोग करती रही। यूपीए के शासन के दौरान सीबीआई कांग्रेस ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन बनकर रह गई थी। इसके आगे मोदी योजना आयोग का जिक्र करते हुए लिखते हैं कि पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने अपनी एक टिप्पणी में योजना आयोग को ए बैंच ऑफ जोकर यानि ‘जोकरों का समूह’ कहा था। उस समय योजना आयोग के उपाध्यक्ष डॉ. मनमोहन सिंह थे। उनकी इस टिप्पणी से साफ जाहिर होता है कि कांग्रेस सरकारी संस्थाओं के प्रति किस प्रकार की सोच रखती है और कैसा सलूक करती है।


अधिक देश की खबरें