लोकसभा चुनाव 2019 : पीएम मोदी आज तीन राज्यों में करेंगे जनसभाओं को संबोधित
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी गुरुवार को पूर्वाह्न 11 बजे उत्तर प्रदेश के मेरठ में जन-सभा को संबोधित करेंगे.


नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 28 मार्च से लोकसभा चुनाव के लिए प्रचार अभियान की शुरुआत करने जा रहे हैं. पीएम मोदी गुरुवार को उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और जम्मू-कश्मीर में तीन जन-सभाओं को संबोधित करेंगे. भाजपा के मीडिया प्रकोष्ठ के प्रमुख अनिल बलूनी ने अपने बयान में कहा कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह गुरुवार को असम में रहेंगे जहां वह दो विशाल रैलियों को संबोधित करेंगे. 

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी गुरुवार को पूर्वाह्न 11 बजे उत्तर प्रदेश के मेरठ में जन-सभा को संबोधित करेंगे. यह सभा मेरठ में मोदीपुरम (रुड़की रोड, थाना दौराला) के पास होगी. इसके बाद प्रधानमंत्री दोपहर सवा एक बजे रुद्रपुर (उत्तराखंड) के मोदी मैदान (जिला उधम सिंह नगर) में जन-सभा को संबोधित करेंगे. शाम पांच बजे मोदी जम्मू-कश्मीर के पंचायत डुम्मी, तहसील भालवाल (जिला जम्मू), अखनूर ब्रिज के पास विशाल रैली को संबोधित करेंगे. बलूनी ने दावा किया कि इसके पहले ‘मेरा परिवार भाजपा परिवार’, ‘महासंपर्क अभियान’, ‘कमल ज्योति दीपावली‘ और ‘विजय संकल्प बाइक रैलियों’ के माध्यम से भारतीय जनता पार्टी देश के 10 करोड़ लोगों से संपर्क कर चुकी है. 

दिल्ली प्रदेश भाजपा ने लोकसभा चुनावों से पहले राष्ट्रीय राजधानी में प्रचार अभियान के तहत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चार रैलियों के लिए अपने केन्द्रीय नेतृत्व से आग्रह किया है. प्रदेश भाजपा प्रमुख मनोज तिवारी ने कहा कि रैलियों के लिए पांच स्थलों को चुना गया है जिनके लिए केन्द्रीय नेतृत्व से अनुमति मांगी गई है. उन्होंने कहा, 'हमने दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चार जनसभाओं का आग्रह किया है. मुझे लगता है कि हमें इनमें से कम से कम दो की मंजूरी मिलेगी.' 

प्रधानमंत्री की रैलियों के लिए चुने गये संभावित स्थलों में बुराड़ी का संत निरंकारी ग्राउंड, शास्त्री पार्क, द्वारका और महरौली शामिल है. दिल्ली की सातों लोकसभा सीटों के लिए उम्मीदवारों की सूची अप्रैल के पहले सप्ताह में आने की संभावना है. पार्टी सूत्रों ने दावा किया कि कांग्रेस और आप के बीच संभावित गठबंधन को लेकर अनिश्चितता के कारण उम्मीदवारों के नामों की घोषणा में 'देरी' हो रही है. हालांकि तिवारी ने इसे खारिज करते हुए कहा कि पार्टी घटनाक्रम पर नजर रखे हुए है लेकिन इसके साथ ही वह उम्मीदवारों के चयन की प्रक्रिया में भी है.


अधिक देश की खबरें