मुथूट गोल्ड लूट कांड का पुलिस अभिरक्षा इनामी फरार अपराधी गिरफ्तार
अपराधी गिरफ्तार


लखनऊ। अमीनाबाद पुलिस ने जनाना पार्क के पास से चोरी लूट की योजना बना रहे चार ऐसे लोगो को पकड़ा है जो एक सेठ के घर लूट की सनसनी खेज वारदात को अन्जाम देने की फिराक मे थे। आधी रात को पकड़े गए चोरो के इस गिरोह मे एक ऐसा अपराधी भी शामिल है जो दस महिना पहले पेशी के दौरान पुलिस अभिरक्षा से फरार हो गया था उसकी फरारी के बाद उसकी गिरफ्तरी के लिए 20 हजार रूपए के इनाम का एलान भी किया गया था पुलिस अभिरक्षा से फरार हुआ अपराधी कोई मामूली अपराधी नही है इस अपराधी ने 2013 मे आलमबांग मे साढ़े चार करोड़ रूपए कीमत का सोना लूटा था। चुनाव को सकुशल सम्पन्न कराने के लिए अपराधियो की धरपकड़ अभियान मे लगी पुलिस को आधी रात को सूचना मिली कि अमीनाबाद मे जनाना पार्क के पास से कुछ अपराधी किसी घटना को अन्जाम देने की फिराक मे है इन्स्पेक्टर अमीनाबाद सुनील कुमार दूबे और अमीनाबाद कोतवाली के एडीशनल इन्स्पेक्टर मथुरा राय ने अपनी टीम के साथ घेरा बन्दी कर चार लोगो को पकड़ कर एक तमन्चा 7 कारतूस और एक चाकू बरामद किया। गिरफ्तार किए गए चोरो में ओसो नगर कनेसी कष्णा नगर का रहने वाला रविन्द मौर्या उर्फ रवि करिया उर्फ रवि कालिया सातवी गली निशातगंज का रहने वाला रामेश्वर प्रसाद उर्फ राजू पहाड़ी सियरा गोढ़ी बसन्त विहार कालोनी मड़ियाव का रहने वाला रवि रावत और नया गाॅव माडल हाउस अमीनाबाद का रहने वाला राज कुमार गुप्ता उर्फ राजू गुप्ता शामिल है। एएसपी पश्चिम विकास चन्द्र त्रिपाठी ने बताया कि गिरफ्तार किए गए चोर एक सेठ के घर मे चोरी लूट की प्लानिंग कर रहे थे उन्होने बताया कि रविन्द्र मैर्या उर्फ रवि कालिया ने अपने साथियों समीर शेरा, अजय वर्मा, आरिफ, टोनी और शुभम के साथ मिल कर साल 2013 मे आलमबाग मे मुथूट गोल्ड फाईनेन्स बैंक मे डकैती डाल कर करीब 10 किलो सोना लूटा था बैक से लूटे गए सोने की कीमत करीब साढ़े चार करोड़ रूपए थी उन्होने बताया कि मुथूट गोल्ड फाइंनेन्स बैंक डकैती मे सभी आरोपी गिरफ्तार कर लिए गए थे और लूटा हुआ सोना बरामद कर लिया गया था। गिरफ्तारी के बाद आरोपी जेल गए जहंा रविन्द्र मौर्या की मुलाकात कुख्यात अपराधी राजू पहाड़ी और रवि रावत से हुई थी। रविन्द्र ने राजू पहाड़ी और रवि के साथ मिल कर जेल से भागने की योजना बनाई थी। रवि रावत और राजू पहाड़ी जेल से छूट गए थे दस महीने पूर्व जेल मे बन्द रविन्द्र मौर्या को दीवानी कचेहरी मे पेशी पर लाया गया था जहंा पेशी के दौरान राजू पहाड़ी और रवि रावत ने रविन्द्र को पुलिस अभिरक्षा से भागने मे मदद की रविन्द्र अपने इनही दो साथियो की मोटर साईकिल पर बैठ कर कचेहरी से भाग गया था। उन्होने बताया कि पुलिस अभिरक्षा से भागे बैंक डकेती के अभियुक्त रविन्द्र मौर्या की गिरफ्तारी के लिए 20 हजार रूपए के इनाम का एलान किया गया था । आपको बता दे कि निवर्तनमान एसएसपी जे. रविन्द्र गौड के कार्यकाल मे आलमबांग थाना क्षेत्र मे मुथूत गोल्ड फाईनेन्स बैंक मे दिन दिहाड़े सोना लूट की वारदात हुई थी पुलिस ने एक सप्ताह के अन्दर मुथत गोल्ड फाईनेन्स बैंक लूट काण्ड के सभी आरोपी गिरफ्तार कर करीब दस किलो सोना बरामद कर लिया था। हालाकि अमीनाबाद पुलिस ने जनाना पार्क के पास चोरी की योजना बनाए जाने की सूचना पर चोरो के गंैग की घेरा बन्दी की थी गिरफ्तारी से पहले पुलिस को भी ये पता नही था कि पुलिस को इतनी बड़ी कामयाबी मिलने वाली है। 


अधिक राज्य की खबरें

पॉलिटेक्निक प्रवेश परीक्षा : गणित व फिजिक्स के प्रश्नों ने अभ्यर्थियों को उलझाया..

प्रदेश के राजकीय, सहायता प्राप्त व प्राइवेट पॉलिटेक्निक में दाखिले के लिए छात्र-छात्राओं ने परीक्षा में हिस्सा ... ...