सोनिया गांधी ने याद दिलाया 2004, कोई भी अपराजेय नहीं
रायबरेली से सांसद व कांग्रेस उम्मीदवार सोनिया गांधी नामांकन दाखिल किया


पूजा अर्चना, निकाला रोड शो, नामंकन के बाद बोला पीएम नरेंद्र मोदी पर हमला
रायबरेली। सोनिया गांधी ने नामांकन के बाद कहा कि 2004 नहीं भूलना चाहिए। कोई भी अपराजेय नही है, इसका परिणाम 23 मई को आ जाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आंखों में आंखे डाल कर मुझसे डिबेट करे। मैैंन कुछ गलत नहीं किया पीएम चाहे जो कार्यवाही करें। उन्होंने अपनी जीत सुनिश्चित बताते हुए कहा कि मुझे रायबरेली की जनता पर और रायबरेली को मेरे उपर पूरा विश्वास है। उन्होंने कहा कि गाॅधी परिवार का रायबरेली से राजनैतिक नही बल्कि आत्मीय रिश्ता है। इस रिश्ते में कोई दरार नही डाल सकता। उन्होंने एक प्रश्न के उत्तर में कहा कि कांग्रेस का ग्राफ बड़ा है कांग्रेस सफलता की ओर अग्रसर है। नामांकन के दौरान उनके साथ कांग्र्रेस अध्यक्ष और उनके पुत्र राहुल गांधी एवं कांग्रेस महासचिव पुत्री प्रियंका गांधी भी मौजूद थें।जबकि रेहान बाहर खड़े रहे।
लोकसभा चुनाव के पांचवें चरण में गुरुवार को रायबरेली से सांसद व कांग्रेस उम्मीदवार सोनिया गांधी नामांकन दाखिल किया। सोनिया गांधी कांग्रेस के केंद्रीय कार्यालय में पूजा अर्चना के बाद वह रोड शो की शुरूआत की। उनके साथ राहुल, प्रियंका, राबर्ट वाड्रा, नाती रेहान और नातिन मिरया भी मौजूद थे। सोनिया गांधी के रोड शोे में शामिल होने के लिए कार्यकर्ताओं की भीड़ केंद्रीय कार्यालय के बाहर सुबह से ही एकत्र होना शुरू हो गई थी। वहीं कांग्रेस की झंडे के साथ-साथ एक झंडा और चर्चा में आ गया है। जिसमें प्रधानमंत्री और अंबानी गले लगते फोटो बनाई गई है साथ में लिखा गया है कि चैकीदार चोर है।वहीं झंडा लेकर आए एक कांग्रेसी कार्यकर्ता को पुलिस पकड़ कर ले जा रही थी तभी एक पत्रकार ने आपत्ति जताई। इस बात को लेकर पुलिसकर्मी और पत्रकार के बीच नोकझोंक भी हुई। ये वही झंडा है जघ्सि पर राफेल घोटाला का जिक्र और चैकीदार चोर है का नारा भी था।


अधिक राज्य की खबरें