बुलंदशहर में भाजपा सांसद डॉ. भोला सिंह नजरबंद
भाजपा प्रत्याशी तथा सांसद डॉ. भोला सिंह


बुलंदशहर। लोकसभा चुनाव 2019 में आज भाजपा प्रत्याशी तथा सांसद डॉ. भोला सिंह को एक काम काफी भारी पड़ गया। आज दिन में मतदान के दौरान मतदान स्थल के अंदर जाकर मतदान की अपील करने पर भाजपा प्रत्याशी डॉ भोला सिंह को जिला प्रशासन ने नोटिस जारी किया है। इसके साथ ही जिला प्रशासन ने उनको मतदान खत्म होने तक नजरबंद भी किया है।
बुलंदशहर से भाजपा प्रत्याशी डॉ. भोला सिंह का मतदान के दौरान कई बार मतदान केंद्र में जाना भारी पड़ गया। चुनाव आयोग ने कड़ा एक्शन लिया है। आयोग ने भोला सिंह को पूरे दिन के लिए नजरबंद कर दिया है। अब वह शाम को पांच बजे तक जिले के किसी भी बूथ पर नहीं जा सकेंगे। भोला सिंह के खिलाफ किसी ने जिलाधिकारी को शिकायत की कि उन्होंने जेपी जनता इंटर कॉलेज में जाकर बूथ का निरीक्षण किया और वोटरों को लुभाकर आचार संहिता का उल्लंघन किया है। शिकायत का संज्ञान लेते हुए जिलाधिकारी ने भोला सिंह को नोटिस जारी किया है। बुलंदशहर में मतदान के दौरान भोला सिंह एक बूथ के अंदर जाने लगे तो सुरक्षकर्मी ने उनको अंदर जाने से रोक दिया। इसके बाद उन्होंने सुरक्षाकर्मी की किसी से फोन पर बात कराई जिसके बाद सुरक्षाकर्मी ने अंदर जाने दिया। इसके बाद बुलंदशहर के जिला प्रशासन पर तब प्रश्न खड़े हो गए। वहां पर तैनात सुरक्षाकर्मी ने कहा कि सांसद ने डीएम से फोन पर बात कराई थी और डीएम ने उन्हें अंदर जाने के लिए कहा था। भोला सिंह मतदान केंद्र में निरीक्षण की बात कहकर बूथ के अंदर गए थे, लेकिन वह वहां पर लोगों से बात करने लगे। बूथ के अंदर प्रतिनिधि का इस प्रकार का आचरण आचार संहिता का उल्लंघन है। इसी कारण आयोग ने भोला सिंह को दिनभर के लिए नजरबंद कर दिया। आचार संहिता का उल्लंघन करने व अन्य प्रत्याशियों की शिकायत पर भाजपा प्रत्याशी भोला सिंह को नजरबंद करने का आदेश जारी कर दिया गया है। यह आदेश जिलाधिकारी अभय सिंह ने जारी किया है। भोला सिंह को नजरबंद करने के लिए जिलाधिकारी, एसडीएम सदर व टीम रवाना हो चुकी है। भोला सिंह ने बताया कि लोग वोट डालकर बाहर आ रहे थे और मोदी-मोदी के नारे लगा रहे थे, मैंने लोगों को धन्यवाद बोला है। भोला सिंह आगे बोले कि उन्होंने किसी भी प्रकार से आचार संहिता का उल्लंघन नहीं किया। वह बोले, मैं मतदान कक्ष में व्यवस्था देखने गया था, ईवीएम के पास नहीं गया था। उन्होंने ये बात तब स्पष्ट की जब उनसे पूछा गया कि आप पर ईवीएम के पास जाने का भी आरोप है। जिलाधिकारी ने बताया है कि कोई भी प्रत्याशी बूथ पर जा सकता है। वहां की व्यवस्था का निरीक्षण कर सकता है, यह आचार संहिता का उल्लंघन नहीं है। ईवीएम नहीं देख सकता है। भोला सिंह की नजरबंदी के आदेश जारी होने के बाद कलक्ट्रेट में डीएम और एसएसपी बैठक कर रहे हैं।


अधिक राज्य की खबरें