भाजपा और कांग्रेस पर बरसीं मायावती
कांग्रेस पर शब्द वाण छोड़ते हुए मायावती ने कहा कि कांग्रेस ने सत्ता के दौरान कोई कार्य नहीं किया।


फर्रुखाबाद, (हि.स.)। आजादी के बाद केंद्र और प्रदेश में कांग्रेस ने लंबे समय तक राज्य किया लेकिन गलत कार्यों की वजह से कांग्रेस गायब हो गई। आरएसएस और पूंजीबाद की वजह से भाजपा को भी हटना होगा। 

यह बात मंगलवार को यहां बसपा सुप्रीमो मायावती ने कही। वह आवास विकास स्थित लकूला में महा गठबंधन के उम्मीदवार मनोज अग्रवाल की चुनावी सभा को सम्बोधित कर रही थी। उन्होंने भाजपा पर प्रहार करते हुए कहा कि गरीब मजदूर किसानों और पिछड़े लोगों को जो अच्छे दिन लाने और चुनावी वादों को पूरा नहीं किया। भाजपा जातिवाद 
सम्प्रदाय पर चल रही हैं। उन्होंने सवाल किया कि अनसूचित जाति का आरक्षण कोटा कँहा हैं? पूजी पति को आरक्षण का लाभ दिया जा रहा है। पात्रों को नहीं मिल रहा है। मायावती ने कहा कि केंद्र और राज्य में भाजपा का जाना तय हो गया है। केंद्र की सरकार ने जी एस टी को बहुत जल्दबाजी में लागू किया जिससे बेरोजगारी बडी हैं केंद्र में भाजपा के होते हुए भी देश की सीमाये सुरक्षित नहीं है। तभी आतंकी हमले हो रहे हैं। इसलिए कांग्रेस भाजपा को नहीं आने देना है। 

उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेता जब वोट मांगने आये तो बता देना कि बहुत लंबे समय तक देखा है उन्हें अब रोकना होगा। सभी विरोधी पार्टी साम, दाम, दण्ड भेद अपनाएगी। उनसे सावधान रहना होगा। भाजपा ने चुनावी घोषणा पत्र में जो वादे किये कांग्रेस की तरह खोखले साबित हुए। सबका साथ सबका विकास कहां गया, गरीबों के वोट लेने के लिए 6 हजार देने की बात कही हैं केंद्र में सरकार बनी तो सभी को रोजगार मिलेगा। कांग्रेस का भी गरीबों को लुभाने वाला चुनावी घोषणा पत्र है। कांग्रेस और भाजपा दोनों को रोकना है। 

कांग्रेस पर शब्द वाण छोड़ते हुए मायावती ने कहा कि कांग्रेस ने सत्ता के दौरान कोई कार्य नहीं किया। इसलिए केंद्र और प्रदेश दोनों जगह से सरकार चली गई। सबका साथ सबका विकास केवल जुमलेबाजी बनकर रह गयी है। किसी भी पार्टी के चुनावी प्रलोभन में नही आना है। चाहे मीडिया का ओपिनियन पोल ही क्यों ना हो। बीजेपी के साथ-साथ कांग्रेस को भी सत्ता में आने से रोकना है।इस मौके पर महागठबंधन उम्मीदवार मनोज अग्रवाल,तथा अन्य सपा बसपा नेता मौजूद रहे।


अधिक राज्य की खबरें

पॉलिटेक्निक प्रवेश परीक्षा : गणित व फिजिक्स के प्रश्नों ने अभ्यर्थियों को उलझाया..

प्रदेश के राजकीय, सहायता प्राप्त व प्राइवेट पॉलिटेक्निक में दाखिले के लिए छात्र-छात्राओं ने परीक्षा में हिस्सा ... ...