उप्र में 13 लोकसभा सीटों पर चौथे चरण का मतदान शुरू
लोकसभा चुनाव के चौथे चरण में प्रदेश में 18 जनपदों की 13 संसदीय सीटों पर आज सुबह सात बजे से मतदान शुरू हो गया।


लखनऊ, (हि.स.)। लोकसभा चुनाव के चौथे चरण में प्रदेश में 18 जनपदों की 13 संसदीय सीटों पर आज सुबह सात बजे से मतदान शुरू हो गया। मतदान सांय छह बजे तक चलेगा। इस चरण में कुल 152 उम्मीदवार सियासी मैदान में हैं। मुख्य निर्वाचन अधिकारी एल. वेंकटेश्वर लू ने बताया कि शत प्रतिशत मतदेय स्थलों पर वीवीपैट का प्रयोग किया जा रहा है।

कई दिग्गजों की सियासी प्रतिष्ठा दांव पर
इस चरण में प्रमुख रूप से भाजपा के 13 उम्मीदवार, कांग्रेस के 12, बसपा के 06, सपा के 07, सीपीआई के 02 तथा शेष अन्य एवं निर्दलीय उम्मीदवार हैं। वहीं कई दिग्गजों की सियासी प्रतिष्ठा दांव पर लगी हुई है। वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में कन्नौज को छोड़कर बाकी सभी सीटों पर भाजपा के उम्मीदवारों ने जीत हासिल की थी।

इस बार भी सपा ने डिम्पल की जीत के लिए चुनाव प्रचार में कोई कसर नहीं छोड़ी। अखिलेश यादव ने भी उनके पक्ष में रोड शो व सभाएं की। वहीं मायावती ने भी डिम्पल के पक्ष में वोट की अपील की और उन्हें अपना आशीर्वाद दिया।

उन्नाव सीट पर भाजपा के साक्षी महाराज और कांग्रेस की अनु टंडन की बीच प्रतिष्ठा का मुकाबला है। इसी तरह कानपुर में पूर्व केंद्रीय मंत्री श्रीप्रकाश जायसवाल और प्रदेश सरकार के मंत्री सत्यदेव पचौरी की प्रतिष्ठा दांव पर है। 

फर्रुखाबाद में पूर्व सांसद व पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद के भविष्य का फैसला भी आज ईवीएम में बंद हो रहा है। लखीमपुर खीरी में राज्यसभा सदस्य रवि प्रकाश वर्मा की बेटी डॉ. पूर्वी वर्मा चुनाव मैदान में हैं। पूर्वी के दादा, दादी व पिता यहां सांसद रह चुके हैं। इसी सीट पर पूर्व मंत्री व पूर्व सांसद जफर अली नकवी की प्रतिष्ठा भी दांव पर है।

इसके साथ ही सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव के गृह जनपद इटावा में भाजपा उम्मीदवार व पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ. राम शंकर कठेरिया, सपा के कमलेश कठेरिया व कांग्रेस से पूर्व सांसद अशोक दोहरे की किस्मत का फैसला भी हो रहा है।

दो करोड़ इकतालिस लाख से अधिक मतदाता
इस चरण में कुल मतदाताओं की संख्या 2,41,07,084 हैं। इनमें 1,30,83,421 पुरुष और 1,10,22,629 महिला मतदाता हैं। थर्ड जेन्डर की संख्या- 1,034 है। उन्नाव लोकसभा क्षेत्र में सबसे अधिक 21,88,558 मतदाता हैं। वहीं कानपुर लोकसभा क्षेत्र में सबसे कम 16,31,296 वोटर हैं।

खीरी में सबसे अधिक 15 उम्मीदवार मैदान में
चौथे चरण में 17,011 मतदान केन्द्र और 27,516 मतदेय स्थल बनाये गये हैं। कुल 152 उम्मीदवार सियासी मैदान में हैं। इसमें (27) शाहजहांपुर में 14, (28) खीरी में 15, (31) हरदोई में 11, (32) मिश्रिख में 13, (33) उन्नाव में 09, (40) फर्रुखाबाद में 09, (41) इटावा में 13, (42) कन्नौज में 10, (43) कानपुर में 14 (44) अकबरपुर में 14, (45) जालौन में 05, (46) झांसी में 11 तथा (47) हमीरपुर में 14 उम्मीदवार हैं। इस चरण में कुल 18 महिला उम्मीदवार मैदान में हैं।

4014 क्रिटिकल मतदेय स्थलों पर है विशेष नजर
क्रिटिकल मतदेय स्थलों की संख्या 4014 है। स्वतंत्र, निष्पक्ष और शांतिपूर्ण मतदान के लिए 3459 माइक्रो आबजर्वर लगाये गये हैं। चुनाव में 2298 सेक्टर मजिस्ट्रेट, 293 जोनल मजिस्ट्रेट और 308 स्टैटिक मजिस्ट्रेट लगाये गये हैं। इसके साथ ही 13 सामान्य प्रेक्षक, 07 पुलिस प्रेक्षक, 13 व्यय प्रेक्षक और 67 सहायक व्यय प्रेक्षकों की तैनाती की गई है। इसके साथ ही 1,18,578 कर्मचारी मतदान कार्य में लगाये गये हैं। इसके साथ ही पर्याप्त संख्या में अर्द्धसैनिक बल एवं पीएसी की तैनाती की गयी है।

निघासन विधानसभा उपचुनाव के लिए भी मतदान शुरू
मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि इसके साथ ही 138-निघासन विधानसभा में उपचुनाव के लिए भी मतदान शुरू हो गया है। उपचुनाव में कुल 07 उम्मीदवार मैदान में हैं। कुल मतदाताओं की संख्या 3,35,987 है। इनमें 1,81,622 पुरुष तथा 1,54,365 महिला मतदाता हैं। उपचुनाव के लिए 179 मतदान केन्द्र और 369 मतदेय स्थल बनाये गये हैं।


अधिक राज्य की खबरें