कांग्रेस के शासन काल में दुनिया हमारी साख मानने को तैयार नहीं थी: पीएम मोदी
मोदी को कुछ नहीं होगा क्योंकि 130 करोड़ देशवासी दीवार बनकर खड़े हैं.


भदोहीः उत्तर प्रदेश के भदोई में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कांग्रेस पर केन्द्र में उसके शासनकाल के दौरान देश की साख गिराने का आरोप लगाते हुए रविवार को दावा किया कि उन्होंने भ्रष्टाचार के सभी दरवाजे बंद कर दिये हैं. मोदी ने यहां एक चुनावी रैली में कहा 'चाहे कारोबार की बात हो, या फिर कुछ और. हर बात पर साख का असर पड़ता है. वर्ष 2014 से पहले कांग्रेस ने 10 साल तक जो सरकार चलायी, उसने देश की साख का ऐसा हाल करके रखा था कि दुनिया हमारी साख मानने को तैयार नहीं थी.'

उन्होंने कहा 'याद करिये, हजारों लाखों करोड़ रुपये के घोटाले, भ्रष्टाचार के खिलाफ सड़कों पर बड़े-बड़े आंदोलन और सत्ता के गलियारों में बिचौलियों और दलालों का ही राज चलता था. हर तरफ दलालों, भ्रष्टाचार, भाई भतीजावाद की चर्चा रहती थी. आपके इस चौकीदार ने सब कुछ बंद कर दिया.' मोदी ने कहा 'देश जिस ईमानदारी और समर्पण की तलाश में था. मोदी ने लोगों की इस भावना को समझा है और उसके लिये अपना जीवन लगाया है.' 

उन्होंने कहा 'विपक्षियों को यही परेशानी है कि मोदी को कुछ होता क्यों नहीं है. मोदी को कुछ नहीं होगा क्योंकि 130 करोड़ देशवासी दीवार बनकर खड़े हैं. आपका आशीर्वाद हो तो ये सारे महामिलावटी मिलकर भी कुछ नहीं कर सकते.' प्रधानमंत्री ने भीड़ से पूछा 'जब सर्जिकल स्ट्राइक होती है तब गर्व होता है? जब भारत ने आतंकवादियों को घर में घुसकर मारा तो आपको गर्व हुआ? भारत ने अंतरिक्ष में सेटेलाइट को मिसाइल से उड़ा दिया, आपको कैसा लगा? आपको गर्व हुआ? यही तो देश की ताकत होती है.' मोदी ने कहा कि दो-तीन दिन पहले ही दुनिया की सबसे बड़ी संस्था ने भारत में सैकड़ों लोगों की जान लेने वाले गुनहगार मसूद अजहर को अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी घोषित कर दिया. यह भारत की बढ़ती ताकत का ही असर है लेकिन महामिलावटी दल इस कामयाबी को मानने के लिये तैयार नहीं हैं.

ये महामिलावटी कह रहे हैं कि देश में चुनाव था, इसलिये मोदी ने मसूद अजहर पर प्रतिबंध लगवा दिया. हर चीज को चुनाव के चश्मे से देखने की वजह से ही आज कांग्रेस और उसके साथियों की यह हालत हो गयी है.

मुस्लिम बहुल भदोही में मोदी ने कहा कि उन्होंने हाल ही में भारत आये सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस से 'कुछ गलत कामों' की वजह से उनके देश में पकड़े गये 850 लोगों को रमजान से पहले छोड़ने का आग्रह किया था, जिसे उन्होंने मान लिया.

उन्होंने तीन तलाक का भी मुद्दा उठाते हुए कहा कि मुस्लिम बहनों को इस बुराई से मुक्ति दिलाने के लिये उनकी सरकार ने संसद में विधेयक पेश किया था, मगर इस कानून को रोकने की कोशिश कर रहे कांग्रेस और उसके साथी इन बहनों को डर के साये में जीने को मजबूर कर रहे हैं.

मोदी ने कहा कि हमारे देश में चार तरह की सरकारें चलीं. इस देश पर वंशवादी लोगों यानी 'नामपंथियों' के साथ-साथ वामपंथियों और धनबल तथा बाहुबल इस्तेमाल करने वाले दमनपंथियों ने राज किया लेकिन इस वक्त एक 'विकासपंथी' का शासन है जो मुल्क की 130 करोड़ की आबादी का ख्याल रखता है.

विपक्षी दलों पर अपने-अपने कार्यकाल में भ्रष्टाचार करने का आरोप लगाते हुए मोदी ने कहा कि गुजरात के मुख्यमंत्री और देश के प्रधानमंत्री के तौर पर अपने कार्यकाल में उन पर एक भी दाग नहीं लगा है.

गौरतलब है कि भदोही में खासी तादाद में मुस्लिम मतदाता हैं. यहां 12 मई को छठे चरण के तहत मतदान होगा.


अधिक राज्य की खबरें