कागजी दावों पर जनता का कल्याण कैसे होगा: मायावती
मायावती ने ट्वीट किया कि विकास दर की बड़े-बड़े दावों से देश के 130 करोड़ गरीबों, मजदूरों, किसानों, बेरोजगारों आदि का अब तक सही भला नहीं हो पाया है.


लखनऊ: बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने गुरुवार को बिना नाम लिए केन्द्र सरकार पर हमला बोला और कहा कि केवल कागजी दावों से जनता का हित व कल्याण कैसे संभव है. मायावती ने ट्वीट किया कि विकास दर की बड़े-बड़े दावों से देश के 130 करोड़ गरीबों, मजदूरों, किसानों, बेरोजगारों आदि का अब तक सही भला नहीं हो पाया है. इनकी दिन-प्रतिदिन की समस्याएं अनवरत गंभीर होती जा रही हैं जो अति-दुखद व दुर्भाग्यपूर्ण है. केवल कागजी दावों से जनता का हित व कल्याण कैसे संभव है.

उन्होंने एक ट्वीट में आगे लिखा, 'लोगों को हसीन सपने दिखाना परन्तु उस हिसाब से काम नहीं करना व भावनाएं भड़काकर राजनीतिक रोटी सेंकना बीजेपी की विशेषता रही है. आज पेश आर्थिक सर्वेक्षण भी प्रमाणित करता है कि गरीबी, बेरोजगारी, किसान आत्महत्या आदि गंभीर समस्याओं के मामले में यह सरकार उदासीन व लापरवाह रही है.'

इससे पहले बुधवार (तीन जुलाई) को भी मायावती ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया था. उन्होंने ट्वीट कर कहा- देश भर में हर स्तर पर सत्ताधारी पार्टी के लोगों द्वारा जिस प्रकार से कानून को खुलेआम हाँथ में लेकर हर प्रकार की अराजकता फैलाई जा रही है वह लगातार गंभीर चिन्ता का विषय बना हुआ है. लेकिन बीजेपी नेतृत्व के यदाकदा फटकार से अबतक स्थिति में कोई सुधार नहीं आया है और नआगे कोई गारण्टी है.


अधिक राज्य की खबरें