BIG Breking: एलओसी के नजदीक पाकिस्‍तानी सेना और ISI ने नए आतंकी कैंप विस्थापित किये
भारतीय वायुसेना की तरफ से बालाकोट में की गई एयर स्‍ट्राइक के बाद एलओसी के नजदीक बड़ी संख्या में आतंकियों को दोबारा देखा गया हैं. (File Photo)


नई दिल्‍ली : जब से कश्मीर से अनुच्‍छेद 370 हटा है तबसे पाकिस्तान लगातार भारत में आतंकियों को घुसपैठ कराने की कोशिश कर रहा है। सभी देशों से गिड़गिड़ाने के बाद 
जब पाकिस्तान की कहीं भी दाल नहीं गली तो वह अब एक बार फिर आतंकियों का सहारा ले रहा है.

इंटेलिजेंस एजेंसियों की एक्‍सक्‍लूसिव जानकारी में साफ हो गया है की पाकिस्‍तानी सेना और उसकी खुफि‍या एजेंसी कश्‍मीर घाटी में आतंकियों की बड़ी टुकड़ी को भारतीय सीमा में घुसपैठ कराने की कोशिश में है.

भारतीय खुफिया एजेंसियों ने एलओसी पर पाकिस्‍तान आतंकियों के 18 नए कैंप और लॉन्‍च पैड्स को पहचाना है, जहां आतंकवादियों को या तो ट्रेनिंग दी जा रही है या उन्‍हें यहां से भारत में घुसपैठ कराए जाने की कोशिश है. 

भारतीय वायुसेना की तरफ से बालाकोट में की गई एयर स्‍ट्राइक के बाद एलओसी के नजदीक बड़ी संख्या में आतंकियों को दोबारा देखा गया हैं. खुफिया जानकारी के मुताबिक पीओके में आतंकियों के तीन नए कैंप भी बनाए गए हैं.

मानसेरा के तहत बालाकोट, गढ़ी, हबीबुल्लाह, बतरसी, चेरो मंडी, शिवाई नाला, मस्करा, अब्दुल्ला बिन मसूद में लॉन्च पैड की पहचान की गई है. वहीं, कोटली क्षेत्र में गुलपुर, सेसा, बाराली, डूंगी और कोटली में आतंकी शिविरों और लॉन्च पैड की पहचान की गई है. वहीं, ए-3 सेक्टर में काली घाटी और हजारे में आतंकी शिविरों की पहचान की गई है. उधर, बहावलपुर, बंबा और बरनाला में अतिरिक्त नए आतंकी शिविर बनाए गए है.


अधिक देश की खबरें