एयर इंडिया को 4600 करोड़ रुपये का परिचालन नुकसान
कंपनी को यह नुकसान पाकिस्तान की ओर से भारत के लिए एयरस्पेस बंद करने की वजह से हुआ था।


नई दिल्ली : सार्वजनिक क्षेत्र की एयरलाइन कंपनी एयर इंडिया को वित्‍त वर्ष 2018-19 में 4,600 करोड़ रुपये का परिचालन नुकसान (ऑपरेटिंग लॉस) हुआ है। इसकी मुख्‍य वजह तेल की कीमतों में इजाफा, फॉरेन एक्सचेंज में नुकसान होना और पाकिस्‍तानी एयरस्‍पेस का बंद होना है। इसके बावजूद सीनियर अधिकारियों के अनुसार कर्ज में डूबी कंपनी को वित्‍त वर्ष 2019-20 में कुछ लाभ होने की उम्मीद है।

दरअसल कठिन कारोबारी स्थितियों की वजह से एयरलाइन कंपनी का नेट लॉस 8,400 करोड़ रुपये था, जबकि कुल राजस्व 26,400 करोड़ रुपये रहा। एक सीनियर अधिकारी ने बताया कि 2019-20 में कंपनी को 700 से 800 करोड़ रुपये का ऑपरेशनल प्रॉफिट होने का अनुमान है। गौरतलब है कि मौजूदा वित्त वर्ष में अभी तक तेल की कीमतों में कोई तेज उछाल नहीं आया है। 

इसके अलावा फॉरेन एक्सचेंज रेट्स में भी बहुत ज्‍यादा बदलाव नहीं होने की वजह से लाभ की उम्मीद है। हालांकि कंपनी को जून समाप्त हुई तिमाही में 175 से 200 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। कंपनी को यह नुकसान पाकिस्तान की ओर से भारत के लिए एयरस्पेस बंद करने की वजह से हुआ था। एयरस्‍पेस बंद होने से उड़ानों के परिचालन की लागत बढ़ जाने से कंपनी को हर दिन 3 से 4 करोड़ रुपये अतिरिक्त खर्च करने पड़े। इससे पहले बालाकोट में एयरस्ट्राइक के चलते एयर इंडिया को नुकसान उठाना पड़ा था। सरकारी एयरलाइन कंपनी महाराजा को फरवरी से मार्च के बीच कंपनी को 430 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ था।


अधिक बिज़नेस की खबरें