जनसभा को सम्बोधित करते समय भावुक हुए आजम खान, कहा- मेरा वजन 22 किलो कम हो गया
आजम खान ने बताया कि मुझे तीन तलाक और अयोध्या राम मंदिर पर वकालत करने की सजा मिली है।


रामपुर: समाजवादी पार्टी के फायरब्रांड नेता व रामपुर सांसद आजम खान खान का वजन 22 किलो कम हो गया है। इस बात को खुद आजम खान ने बताया। दरअसल, यूपी में होने वाले उपचुनाव में आज़म खान की पत्नी तंजीन फातिमा रामपुर विधानसभा से सपा उम्मीदवार है, जिसके  लिए आजम खान पत्नी तंजीन फातिमा के लिए प्रचार कर रहे थे. एक जनसभा को सम्बोधित करते हुए आज़म खान भावुक हो गए और रोते हुए कहा कि मैं अदाकारी नही कर रहा, मेरा 22 किलो वजन कम हुआ है. 

आजम खान ने बताया कि मुझे तीन तलाक और अयोध्या राम मंदिर पर वकालत करने की सजा मिली है। उन्होंने लोकसभा चुनाव पर बोलते हुए कहा कि जिसने (जया प्रदा) दौलत के अंबार लुटा दिए, उसे आपने क्यों हरा दिया, उसकी सजा मिल रही है मुझे. आजम खान ने कहा कि यूनिवर्सिटी और स्कूल धीरे-धीरे बंद हो जाएंगे. आजम खान ने कहा कि 1947 के बाद हर पांच बरस में मुल्क जम्हूरियत के रास्ते पीछे हटता चला गया.

अपने ऊपर लगे हुए मुकदमों पर तंज कसते हुए आजम ने कहा कि खुशियों का ऐसा पहाड़ टूटा है कि 22 किलो वजन घट गया. बता दें कि आजम खान पर जौहर यूनिवर्सिटी और अन्य मामलों में कई दर्जन केस दर्ज हुए हैं. इन मामलों में आजम खान अपनी पत्नी और बेटे समेत एसआईटी के सामने भी पेश हो चुके हैं. लंबे समय से जारी इस खींचतान के बाद आजम खान अब रामपुर विधानसभा सीट पर होने जा रहे उपचुनाव के लिए प्रचार में उतर गए हैं.


अधिक राज्य की खबरें