संविधान दिवस पर बाइक रैली निकाल अखिलेश यादव से की टोरेंट से मुक्ति की मांग
टोरेंट के उत्पीडन के खिलाफ बाइक रैली


आगरा : ग्रामीण विकास संघर्ष समिति ने 26 नवम्बर 2016 दिन शनिवार को संविधान दिवस के अवसर पर बाइक रैली निकाल लोगों को जागरूक किया। ये बाइक रैली, दहतोरा, घोगई, नगला चुचाना, कलवारी, अमरपुरा, आदि गाँवों सहित पश्चिमपुरी और शास्त्रीपुरम में निकाली गयी और लोगों को संविधान के बारे में बताया गया। और टोरेंट के उत्पीडन के खिलाफ भी जागरूक किया।

इस मौके पर ग्रामीण विकास संघर्ष समिति के ब्रह्मानंद राजपूत ने कहा कि यह दिन हमें भारतीय संविधान के महान शिल्पी डॉ. भीमराव अम्बेडकर सहित उन महान विभूतियों की याद दिलाता है, जिन्होंने कठोर परिश्रम से लोकतंत्र की पवित्र भावना के अनुरूप संविधान बनाया। उन्होंने लोगों से लोकतंत्र को सुदृढ़ बनाने और राष्ट्र के विकास के लिए संविधान का आदर करने और इस पवित्र ग्रंथ के सभी प्रावधानों का गंभीरता से पालन करने की अपील की है।  ब्रह्मानंद राजपूत ने कहा कि लेकिन आज की सरकारें अपने फायदे के लिए बनायी गयी हुई नीतियां लोगों पर थोपती हैं। 2010 में बसपा सरकार ने आगरा कि बिजली व्यवस्था निजीकरण किया और इसकी जिम्मेदारी टोरेंट पावर को सौंपी। तब से लेकर अब तक टोरेंट पावर ने शहर की जनता का उत्पीडन किया है। 2010 में जब बसपा सरकार ने टोरेंट को शहर की बिजली व्यवस्था सौंपने का निर्णय लिया उसका सभी विरोधी दलों ने जमकर इसका विरोध किया। 2012 के विधानसभा चुनावों में सपा ने भी टोरेंट को हटाने का जनता से वादा किया था, लेकिन हुआ सिर्फ ‘‘ढाक के तीन पात’’ सपा सरकार आने पर मामला सेट हो गया। भाजपा द्वारा इसे जनांदोलन बनाने की कोशिश की गयी। वहीं कांग्रेस और बसपा ने भी टोरेंट के खिलाफ बड़े प्रदर्शन किये। कई बार दक्षिणांचल और टोरेंट के दपतरों पर तालाबंदी और घेराव जैसे प्रदर्शन हुए। लेकिन टोरेंट पावर कंपनी इन राजनैतिक दलों को क्या घुट्टी पिलाती है जिससे ये लोग एक या दो दिन जनता को दिखाने के लिए आंदोलन करते हैं और फिर चुप बैठ जाते हैं। अब 2017 के विधानसभा चुनाव आने वाले हैं इन राजनैतिक दलों को जनता को जवाब देना होगा। जवाब अखिलेश सरकार को भी देना होगा, ब्रह्मानंद राजपूत ने कहा कि कल मुख्यमंत्री अखिलेश यादव आगरा आ रहे हैं मुख्यमंत्री अखिलेष यादव एक युवा मुख्यमंत्री हैं, उनको जनता की भावनाओं का सम्मान करते हुये सभी 24 गाँव को टोरेन्ट से मुक्त कर दक्षिणाचल विधुत वितरण निगम लिमिटेड से जोड़ देना चाहिये, इससे उनका मान सम्मान और जनाधार ही बढेगा। अगर वो ऐसा नहीं करते हैं तो उनको और उनकी पार्टी को 2017 के विधानसभा चुनावों में आगरा में खामियाजा भुगतना पड़ेगा। 
बाइक रैली में प्रमुख रूप से सुनील राजपूत, विष्णु मुखिया, उमेश राजपूत, जीतू राजपूत, निनुआ खान, चंद्रवीर राजपूत, भीम राजपूत, चैधरी अजय, शिव बघेल, प्रेमराज लोधी, राहुल खान, थानसिंह, बन्टी लोधी,मुकेश राजपूत, सुनील लोधी, वीरेन्द्र राजपूत, छोटू लोधी, आदि मौजूद रहे।


अधिक राज्य की खबरें