भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 7 विकेट से हराया,  2-1 से जीती सीरीज  
टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए ऑस्ट्रेलिया ने 50 ओवर में 9 विकेट पर 286 रन बनाए, जवाब में भारत ने सधी शुरुवात करते हुए 47.3 ओवर में 3 विकेट खोकर ये जीत हासिल कर ली.


भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच बेंगलुरु के एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम मेंखेले गए तीसरे और अंतिम एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मुकाबले में 7 विकेट से हराकर 3 मैचों की सीरीज 2-1 से जीत ली. टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए ऑस्ट्रेलिया ने 50 ओवर में 9 विकेट पर 286 रन बनाए, जवाब में भारत ने सधी शुरुवात करते हुए 47.3 ओवर में 3 विकेट खोकर ये जीत हासिल कर ली.

शिखर धवन के चोटिल होने के कारण केएल राहुल और रोहित शर्मा की जोड़ी ने टीम इंडिया के लिए पारी की शुरुआत की. इन दोनों ने अच्छी शुरुआत करते हुए पहले विकेट के लिए 69 रन जोड़ दिए. 13वें ओवर में एश्टन एगर ने केएल राहुल को एलबीडब्ल्यू आउट करते हुए भारत को पहला झटका दे दिया. राहुल इस मैच में 19 रन बनाकर आउट हो गए. रोहित शर्मा 119 रन बनाकर आउट हुए.


ऑस्ट्रेलिया को डेविड वॉर्नर और कप्तान एरॉन फिंच की ओपनिंग जोड़ी से अच्छी शुरुआत की उम्मीद थी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ. चौथे ओवर में ही मोहम्मद शमी ने डेविड वॉर्नर को विकेट के पीछे केएल राहुल के हाथों कैच आउट करा कर ऑस्ट्रेलिया को पहला झटका दे दिया. डेविड वॉर्नर 3 रन बनाकर आउट हुए. एरॉन फिंच 19 रन बनाकर रनआउट हुए. फिंच के रन आउट के लिए स्मिथ कसूरवार रहे जिन्होंने कप्तान को रन लेने के लिए बुलाया लेकिन बाद में मन बदल लिया. आम तौर पर शांतचित्त रहने वाले फिंच गुस्से में बुदबुदाते हुए ड्रेसिंग रूम की तरफ गए.


पहले पावरप्ले में ऑस्ट्रेलिया ने दो विकेट पर 56 रन बनाए जब स्मिथ और लाबुशेन क्रीज पर थे. दोनों ने 127 रन की साझेदारी में जबर्दस्त आपसी तालमेल का परिचय दिया. राजकोट वनडे में 46 रन बनाने वाले लाबुशेन ने यहां अर्धशतक बनाया. 

एलेक्स कैरी 35 रन बनाकर कुलदीप की गेंद पर आउट हुए. दूसरे छोर पर स्मिथ अच्छा खेल रहे थे, लेकिन 300 रन पार करने के लिए ऑस्ट्रेलिया को अच्छी साझेदारी की जरूरत थी. स्मिथ और कैरी (35) ने पांचवें विकेट के लिए 58 रन जोड़े लेकिन कैरी ज्यादा देर टिक नहीं सके. एश्टन टर्नर (4) को नवदीप सैनी ने राहुल के हाथों कैच आउट कराया.

शतक से दो रन से चूके स्मिथ ने थर्डमैन पर एक रन लेकर तिहरा अंक छुआ. यह तीन साल में वनडे क्रिकेट में उनका पहला शतक है. उन्होंने 46वें ओवर में नवदीप सैनी को एक छक्का और एक चौका लगाया. इसके बाद जसप्रीत बुमराह को लगातार दो चौके लगाए. शमी ने आखिरी ओवरों में पैट कमिंस और एडम जाम्पा को बोल्ड किया.

(देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं)


अधिक खेल की खबरें