शराब तस्करी में संलिप्त था भाजपा युवा मोर्चा का जिलाध्यक्ष, पार्टी ने पद से हटाया
file photo


 वाराणसी में शराब तस्करी में संलिप्त पाए जा रहें हैं. हैरान करने वाली ये घटना वाराणसी के चौबेपुर थाना क्षेत्र की है. बनारस में भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष का नाम शराब तस्करी के संचालक के तौर पर से जुड़ गया, क्योंकि जिलाध्यक्ष का छोटा भाई शराब तस्करी करते पकड़ा गया और पूछताछ में युवा मोर्चा जिलाध्यक्ष का नाम सामने आ गया. अब पार्टी ने भी भाजपा युवा मोर्चा वाराणसी जिलाध्यक्ष संजय गुप्ता को पद से मुक्त कर दिया है.


हैरान कर देने वाली घटना वाराणसी के चौबेपुर थाना क्षेत्र के संदहा तिराहे के पास 26 अप्रेल की शाम की रिंगरोड की है. जिस वक्त लॉकडाउन के चलते पुलिस कर्मी संदहा तिराहे पर चेकिंग कर रहें थे. तभी गाजीपुर से एक मारुति 800 कार संदिग्ध रुप से आते नजर आई. रोके जाने पर कार रुकने के बजाए भगा दी गई. जिस पर मोटरसाईकिल से पीछा करने पर कार कुछ दूर आगे जाकर रिंग रोड से सर्विस रोड पर उतर गई जिसमें से एक व्यक्ति भाग निकला जबकि पकड़े दोनों ने अपना नाम अरूण पाल उर्फ बबलू पाल और संतोष गुप्ता के तौर पर बताया.

पुलिस ने पकड़ी गई कार से 12 पेटी देसी शराब की बरामद की हैं.पूछताछ में भागने वाले शराब तस्कर का नाम अरविंद पांडेय के रूप में हुआ है. पुलिस ने तीनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करके अवैध शराब कब्जे में ले लिया. 

(देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं)


अधिक राज्य/उत्तर प्रदेश की खबरें