दिल्ली NCR में भूकंप के तेज झटके, अलवर में था केंद्र
किसी तरह के जान-माल के नुकसान की खबर नहीं है


दिल्ली-NCR में फिर महसूस किए गए भूकंप के झटके, रिक्टर स्केल पर तीव्रता 4.7
नई दिल्ली : राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में शुक्रवार शाम एक बार फिर भूकंप के झटके महसूस किये गए हैं. रिक्टर पैमाने पर भूकंप की तीव्रता 4.7 मापी गई. भूकंप विज्ञान विभाग के मुताबिक दिल्ली और आस-पास के इलाकों में शाम सात बजकर 50 सेकेंड पर भूकंप के झटके महसूस किए गए.    

​बता दें कि ​पिछले तीन महीने से लगातार दिल्ली-एनसीआर में भूकंप के झटके महसूस किए जा रहे हैं. इसके अलावा देश के अलग-अलग हिस्सों से भी लगभग हर दूसरे दिन भूकंप की खबरें आ रही हैं. 

गुरुवार को लद्दाख क्षेत्र में भूकंप के झटके महसूस किए गए जिसका केंद्र कारगिल बताया गया. रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 4.5 मापी गई. नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी के मुताबिक, दोपहर 1 बजकर 11 मिनट पर करगिल में भूकंप के झटके महसूस किए गए. इसका केंद्र करगिल से 119 किलोमीटर नॉर्थवेस्ट में रहा.

दिल्ली-एनसीआर में हाल में कब-कब महसूस किए गए भूकंप के झटके

8 जून, 2020- दिल्ली में कम तीव्रता वाले भूकंप के झटके महसूस किए गए. रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 2.1 रही.

3 जून, 2020- नोएडा में भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं. रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 3.2 मापी गई है. रात 10 बजकर 42 मिनट पर झटके महसूस किए गए. भूकंप का केंद्र दक्षिण-पूर्व नोएडा में था.

29 मई, 2020- दिल्ली और इसे सटे कई इलाकों में भूकंप के झटके महसूस किए गए. रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 4.6 मापी गई.

28 मई, 2020- 29 मई के एक दिन पहले भी दिल्ली में भूकंप आया था. इसकी तीव्रता 2.5 थी. यानी 24 घंटे के अंदर दो बार भूकंप के झटके महसूस किए गए थे.

15 मई, 2020- 15 मई को दिल्ली में भूकंप का झटका महसूस किया गया था. हालांकि, रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता केवल 2.2 थी.

10 मई, 2020- 10 मई को दोपहर में करीब 1.45 बजे भूकंप के झटके महसूस किए गए थे. रिक्टर पैमाने पर इसकी तीव्रता 3.5 थी.

13 अप्रैल, 2020- 13 अप्रैल को आए भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 2.7 थी. भूकंप का केंद्र दिल्ली ही था.

12 अप्रैल, 2020- रिक्टर स्केल पर भूंकप की तीव्रता 3.5 मापी गई है. कोरोना वायरस से निपटने के लिए देश में लॉकडाउन था. इसके बीच दिल्ली, नोएडा, गाजियाबाद में भूकंप के झटके महसूस किए गए.


20 दिसंबर, 2019- शाम 5 बजकर 9 मिनट पर दिल्ली-एनसीआर समेत उत्तर भारत में भूकंप के झटके महसूस किए गए थे. भूकंप का केंद्र अफगानिस्तान के काबुल में उत्तर-पूर्व में था. भूकंप की तीव्रता 6.8 मापी गई.


19 नवंबर, 2019- दिल्ली, यूपी समेत उत्तर भारत के कुछ हिस्सों में भूकंप के झटके महसूस किए गए थे. भूकंप का केंद्र बिंदु भारत-नेपाल था. रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 5 मापी गई.

24 सितंबर, 2019- दिल्ली-एनसीआर में भूकंप के झटके महसूस किए गए. ये झटके शाम करीब 4 बजकर 35 मिनट पर महसूस हुए. पीओके के जाटलान इलाके में भूकंप का केंद्र था. रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 5.8 दर्ज की गई.

भूकंप की तीव्रता का क्या मतलब, कितना होता है असर?

- 0 से 1.9 रिक्टर स्केल पर भूकंप आने पर सिर्फ सीज्मोग्राफ से ही पता चलता है.

- 2 से 2.9 रिक्टर स्केल पर भूकंप आने पर हल्का कंपन महसूस होता है.

- 3 से 3.9 रिक्टर स्केल पर भूकंप आने पर कोई ट्रक आपके नजदीक से गुजर जाए, ऐसा असर होता है.

- 4 से 4.9 रिक्टर स्केल पर भूकंप आने पर खिड़कियां टूट सकती हैं. दीवारों पर टंगे फ्रेम गिर सकते हैं.

- 5 से 5.9 रिक्टर स्केल पर भूकंप आने पर फर्नीचर हिल सकता है.



अधिक देश की खबरें