"खुलासा"-बीएसपी के खाते में 104 करोड़ रुपये, मायावती ने कहा बदले की कार्रवाई कर रही है केंद्र

सुप्रीमो मायावती ने मंगलवार को केंद्र सरकार पर निशाना साधा और कहा कि हमारे पास कालाधन नहीं है


लखनऊ:-नोटबंदी के बाद बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के बैंक खाते में 104 करोड़ रुपये जमा होन के खुलासे के बाद सवाल उठने पर पार्टी सुप्रीमो मायावती ने मंगलवार को केंद्र सरकार पर निशाना साधा और कहा कि हमारे पास कालाधन नहीं है। 

बैंक में जमा रुपयों पर मायावती ने कहा कि बीएसपी ने नियमों के हिसाब से ही बैंकों में पैसे जमा करवाए हैं। सभी जमा नियमों के तहत है, धन नोटबंदी से पहले जमा किया गया था। पार्टी को बड़े नोटों में ही रकम मिलती है। पार्टी को पुराने नोटों में ही चंदा मिला। हमारे पास बैंक में जमा एक-एक पैसे का हिसाब है। हमारे पास जमा पैसों का क्‍या फेंक देते? हमारे पास बैंक में जमा एक-एक रुपये का हिसाब है लेकिन भाजपा ने जो रुपये जमा किए हैं उसका क्या। उन्‍होंने कहा कि मैं अगस्‍त से नवंबर तक यूपी में ही थी। बैंको में जमा पैसा पार्टी की मेंबरशिप का है। अगस्‍त के दौरान मेंबरशिप का पैसा आया। 

चुनाव के लिए देशभर से पैसे जमा हुए थे। ये पैसा नोटबंदी के फैसले से पहले जमा हुआ था। बीजेपी के इशारे पर हमारे खिलाफ ये कार्रवाई हुई है। बसपा अध्यक्ष ने कहा कि बड़े मुद्रा नोटों में सदस्यता शुल्क को रखने से धन लाने-ले जाने में आसानी होती है। वह खुद इस धनराशि का हिसाब-किताब करती हैं। चूंकि वह अगस्त, सितम्बर और आधे नवम्बर तक उत्तर प्रदेश में ही रहीं। इसी बीच, आठ नवम्बर को नोटबंदी का ऐलान हो गया। 


अधिक राज्य की खबरें

स्वतंत्रता दिवस पर योगी सरकार ने किया मुख्यमंत्री उत्कृष्ट सेवा पुलिस पदक का ऐलान..

स्वतंत्रता दिवस के मौके पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश में पहली बार मुख्यमंत्री उत्कृष्ट सेवा ... ...