राम गोपाल ने की केंद्रीय चुनाव आयुक्त से मुलाकात
मुलायम ने चुनाव आयुक्त के समक्ष विस्तार से अपना पक्ष रखा और उन्हें बताया कि 01 जनवरी को जो अधिवेशन हुआ वह असंवैधानिक था।


नई दिल्ली : समाजवादी पार्टी कुनबे में सुलह-समझौते की कोशिशों के बीच ही प्रो. रामगोपाल यादव भी मंगलवार को केंद्रीय चुनाव आयोग पहुंचे। उन्होंने केंद्रीय चुनाव आयुक्त नसीम जैदी से मुलाकात कर कहा कि पार्टी के 90 प्रतिशत विधायक मुख्यमंत्री और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के साथ हैं और उनके अगुवाई वाले दल को समाजवादी पार्टी माना जाए। रामगोपाल के साथ किरणमय नंदा और नरेश अग्रवाल भी इस मुलाकात के दौरान उपस्थित रहे। 

इससे पूर्व, सोमवार को मुलायम सिंह यादव ने भी केंद्रीय चुनाव आयुक्त से मिलकर अपना पक्ष रखा। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद पर असल में कौन है और चुनाव चिह्न किसके नाम से आवंटित है, इन सब विषयों पर उन्होंने स्थिति स्पष्ट की थी। चुनाव आयुक्त और मुलायम की इस मुलाकात के दौरान शिवपाल सिंह यादव, राज्यसभा सांसद अमर सिंह व जयाप्रदा भी मौजूद रहे। मुलायम ने चुनाव आयुक्त के समक्ष विस्तार से अपना पक्ष रखा और उन्हें बताया कि 01 जनवरी को जो अधिवेशन हुआ वह असंवैधानिक था। उस अधिवेशन में लिए गए फैसले भी गैर संवैधानिक हैं। 


अधिक राज्य की खबरें