अखिलेश के खिलाफ चुनाव लड़ेंगे मुलायम!
मुलायम सिंह यादव ने सोमवार को पार्टी के प्रदेश मुख्यालय में कार्यकर्ताओं के साथ बैठक की।


लखनऊ : समाजवादी पार्टी (सपा) और चुनाव चिन्ह की लड़ाई के बीच मुलायम सिंह यादव ने सोमवार को पार्टी के प्रदेश मुख्यालय में कार्यकर्ताओं के साथ बैठक की। इस मौके पर बड़ी संख्या में टिकट की उम्मीद लगाये नेताओं के साथ कार्यकर्ता भी मौजूद थे। मुलायम ने अखिलेश गुट की ओर से प्रदेश अध्यक्ष बनाये गए नरेश उत्तम को भी बन्द कमरे में आयोजित बैठक में बुलाया और  कार्यकर्ताओं को सम्बोधित किया। कार्यकर्ताओं के मुताबिक मुलायम ने कहा कि यदि अखिलेश नहीं मानें तो उनके खिलाफ चुनाव लडूंगा। 

उन्होंने कहा कि मैंने अखिलेश को तीन बार बुलाया पर वह एक मिनट के लिए आये और मेरी बात सुने बिना चले गए। अखिलेश मेरी बात नहीं सुन रहे हैं। उन्होंने कहा कि अखिलेश को आज भी मैंने बुलाया था लेकिन वह नहीं आये। वह अब बार-बार बुलाने पर भी नहीं आते हैं। मुलायम ने कार्यकर्ताओं से एक बार फिर अपील करते हुए कहा कि, सभी कार्यकर्ता मेरा साथ दें। मुलायम ने मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के कई फैसलों पर सवाल उठाते हुए कहा कि उन्होंने नारद राय, ओमप्रकाश सिंह और अम्बिका चौधरी जैसे वरिष्ठ नेताओं को मंत्री पद से निकाल दिया। महिला मंत्री को भी बाहर कर दिया गया।

इन नेताओं की आखिर क्या गलती थी? उन्होंने कहा कि बलराम को बिना गलती के बाहर किया गया। मैने जबरदस्ती मंत्री बनवाया। इससे पहले मुलायम सिंह यादव ने अपने आवास पर शिवपाल सिंह यादव के साथ करीब पांच मिनट तक मुलाकात की। शिवपाल उनसे मिलने पहुंचे थे। उधर मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी अपने सरकारी आवास पर जनता दर्शन हाल में पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ बैठक की। इस दौरान कई विधायक भी मौजूद रहे। बताया जा रहा कि सीएम अखिलेश ने चुनाव को लेकर रणनीति पर चर्चा की।


अधिक राज्य की खबरें