सोनिया ने बुलाई बैठक, आज जारी कर सकती है कांग्रेस उत्तराखंड की लिस्ट
सूत्रों के अनुसार बैठक में उत्तर-प्रदेश और उत्तराखंड के सम्भावित उम्मीदवारों पर होगा विचार किया जाएगा।


नई दिल्ली : उत्तराखंड विधानसभा चुनाव के मद्देनजर कांग्रेस गुरुवार को उम्मीदवारों की सूची जारी कर सकती है। इस सिलसिले में हाईकमान ने शाम 5:30 बजे 10 जनपथ पर एक बैठक भी बुलाई है। सूत्रों के अनुसार बैठक में उत्तर-प्रदेश और उत्तराखंड के सम्भावित उम्मीदवारों पर होगा विचार किया जाएगा। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की अध्यक्षता में बुलाई गई इस बैठक में पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी, ए के एंटोनी, मनमोहन सिंह, अम्बिका सोनी, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत, उत्तराखंड कांग्रेस अध्यक्ष किशोर उपाध्याय, सह-प्रभारी संजय कपूर यूपी पीसीसी राज बब्बर, प्रभारी गुलाम नबी आजाद, सीएलपी समेत समेत सभी 16 सदस्य मौजूद रहेंगे। 

इससे पहले बुधवार को उत्तराखंड कांग्रेस स्क्रीनिंग कमेटी की बैठक में सभी 70 विधानसभा सीटों पर प्रत्याशियों के नामों पर हुआ मंथन हुआ था। सूत्रों के अनुसार बुधवार को उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत 15 सीटों पर वह अपने प्रत्याशी उतारने की मांग को लेकर बैठक में अलग-थलग पड़ गए। जिसकी वजह से उत्तराखंड की सभी टिकटों पूरी तरह से सहमती नहीं बन पाई थी। यहां तक की सोनिया-राहुल और अम्बिका सोनी द्वारा इस मसले पर रावत को फटकार लगाने की बात सामने आ रही है। कहा जा रहा है कि बैठक में पीसीसी किशोर उपाध्याय ने रावत के खिलाफ मोर्चा खोल दिया था। 

इसी वज़ह से हरीश रावत के कहने के बावजूद अभी तक उत्तराखंड विधानसभा चुनाव के लिए उम्मीदवारों की सूची  जारी नहीं हो पाई। उत्तराखंड में फिलहाल कांग्रेस पार्टी की ही सरकार है। पिछले विधानसभा चुनाव में साल 2012 में कांग्रेस ने 32 सीटों पर जीत हासिल की थी और कांग्रेस के विजय बहुगुणा मुख्यमंत्री बने थे| बाद में उत्तराखंड की केदार घाटी में आए जलप्रलय और उसमें बहुगुणा सरकार की विफलता तथा विधायकों की बगावत के बाद हरीश रावत को मुख्यमंत्री बनाया गया था। 

उधर, विजय बहुगुणा समर्थकों के साथ भाजपा में शामिल हो गए थे। दरअसल उत्तराखंड में पार्टी कार्य़कर्ताओं में इस बात को लेकर सियासी खलबली मची हुई है कि जहां भाजपा सभी बागियों को टिकट थमा रही है। वहीं कांग्रेस, राहुल गांधी का सिर अलग करने वाले को अपना प्रत्याशी बनाने की संभावना को लेकर भी बवाल चल रहा है। इसके साथ ही उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी के गटबंधन के तहत आने वाली सम्भावित सीटों, सीटों की संख्या, सीटो के चयन, उम्मीवारों का चयन, गठबंधन की रणनीति पर भी बैठक में अहम मंथन किया जाएगा।


अधिक देश की खबरें