अकेले होने पर आ जाए हार्ट अटैक तो जरूर अपनाएं ये तरीके
अकेले होने पर आ जाए हार्ट अटैक तो जरूर अपनाएं ये तरीके


बदलते लाइफस्टाइल औक खान-पान में हो रहे निरंतर बदलाव के कारण आज हर व्यक्ति किसी न किसी बीमारी से ग्रस्त है, जिसमें से एक हार्ट अटैक भी है। आज हार्ट अटैक की समस्या काफी सुनने को मिलती है। अक्सर ऐसा होता है कि हार्ट का मरीज अकेले होने पर कई बार उसे अटैक आ जाता है। ऐसे में उस मरीज को तुरंत डॉक्टर के पास ले जाने वाला बी कोई नहीं होता, जिस वजह से कई बार मरीज की जान तक चली जाती है। ऐसी स्थिति में हार्ट मरीज को कुछ सावधानियां बरतने की जरूरत है ताकि वह किसी की गैरमौजूदगी में अपने-आप को हार्ट अटैक जैसी घटान से बचा सके। 
हार्ट अटैक आने पर पेशेंट को मेडिकल सहायता जितनी जल्दी मिल जाएं उतना ही बेहतर है। डॉक्टर तक पहुंचने से पहले थोड़ी समझदारी से काम ले। आज हम आपको कुछ ऐसे ही आसान से टिप्स बताने जा रहे, जिनको हार्ट अटैक आने पर अपनाना चाहिए , ताकि प्रॉब्लम को कंट्रोल किया जा सकता है।
- जमीन पर सीधे लेट जाएं और रेस्ट करें। ज्यादा हिलने की कोशिश न करें। 
- पैरों को छोड़ी ऊचाई पर रखें। ताकि इससे पैरों के ब्लड की सप्लाई हार्ट तक हो सकते है और बीपी कंट्रोल हो जाए। 
-  हार्ट अटैक जैसे फिल होने पर तुरंत अपने कपड़ों को थोड़ा ढीला कर लें। इससे बैचेनी 
कम होगी। 
- फिर धीरे-धीरे लंबी सांस लें। इससे शरीर को पर्याप्त ऑक्सीजन मिल सकें। 
- अटैक आते ही सोरबिट्रेट की एक गोली जीभ के नीचे रखें । अगर यह गोली न मिले तो डिस्प्रीन की गोली लें सकते है। दवाई के अलावा और कुछ भी न खाएं 
- उल्टी आए तो एक तरफ मुड़कर करें ताकि उल्टी लंग्स में न भरें। 
- ऐसी स्थिति में पानी या कोई और ड्रिंक पीने की कोशिश न करें। इससे उल्टी आ सकती है और प्रॉबल्म बढ़ सकती है। 
- अपने आसपास के किसी भी परिचित को सुचित करें और डॉक्टर को बुलाने की कोशिश करें। 


अधिक सेहत/एजुकेशन की खबरें