टैग: #health, #losing weight, #diet, #fruits, #Water,
कम नहीं हो रहा आपका मोटापा! कही ये पांच कारण तो नहीं
मोटापा कम करने के दौरान सबसे ज्यादा सावधानी इस बात की होनी चाहिए कि आप नाश्ते और खाने में क्या-क्या ले रहे हैं।


नई दिल्ली : मोटापा मानव शरीर के लिए बीमारी का घर होता है। मोटापा शरीर में जमा होनेवाली अतिरिक्त चर्बी होती है जिससे वजन बढ़ जाता है और यही मोटापा कई बीमारियों का घर बन जाता है। मोटापे का मतलब है, शरीर में बहुत ज्यादा चर्बी होना। जबकि ज्यादा वजनदार होने का मतलब है, वजन का सामान्य से ज्यादा होना। कई बार लोग मोटापा कम करने की कोशिश तो करते है लेकिन उनका वजन कम नहीं होता है या फिर जिस परिणाम की वो उम्मीद करते हैं वो उन्हें हासिल नहीं होता। आइए नजर डालते हैं उन पांच कारणों पर जो आपके मोटापे को कम नहीं होने देते।
मोटापा कम करने के दौरान सबसे ज्यादा सावधानी इस बात की होनी चाहिए कि आप नाश्ते और खाने में क्या-क्या ले रहे हैं। इस दौरान आपको वसायुक्त चीजें लेने से बचना चाहिए। आपको उन खाद्य पदार्थों के सेवन से बचना चाहिए जो आपके शरीर में कैलोरी की मात्रा ज्यादा बढ़ाते है। अगर आप इस दौरान ड्राइ-फ्रूट्स, एवाक्डोस, पास्ता, ओलिव आयल, चॉकलेट आदि का सेवन एक तय मात्रा में करते है तो यह सेहत के लिए लाभकारी है लेकिन इन चीजों का ज्यादा सेवन आपके शरीर में आपके मोटोपा को बढ़ाने का काम करता है और इससे आपका मोटापा कम नहीं होता है। आपको हाई कैलारी वाली चीजों के खाने पर निगाह रखनी होगी और इनसे बचना होगा।

पानी

अगर आप मोटापा कम करने के अभियान में पानी का पर्याप्त सेवन नहीं कर रहे हैं तो इससे आपके शरीर में वसा की मात्रा जल्दी कम नहीं होगी। आपको रोजाना पानी भरपूर और पर्याप्त मात्रा में पीने की आदत डालनी चाहिए ताकि शरीर में पानी की कमी नहीं हो। पानी पीने से शरीर का मेटॉबालिज्म सही रहता है और पाचन की प्रक्रिया दुरुस्त रहती है। साथ ही आपको उन खाद्य पदार्थों को भी सेवन करना चाहिए जिनमें भरपूर मात्रा में पानी होता है।  

कसरत

रोजाना जो हमारे शरीर में कैलोरी बनती है अगर हम उसे खर्च नहीं करे तो मोटापा बढ़ने लगता है। कैलोरी बर्न करने के लिए आपको रोजाना कसरत करनी चाहिए ताकि आपके शरीर में जमा अतिरिक्त कैलोरी चर्बी का रुप ना ले लें। इसलिए अगर आप तेजी से मोटापा कम करना चाहते है तो आपको कसरत को अपनी दैनिक दिनचर्या से जरूर जोड़ लेना चाहिए। कैलोरी गेन और कैलोरी बर्न में अगर संतुलन कायम रहेगा तो आप मोटे नहीं होंगे।

नींद

कम नींद लेना शरीर की सेहत के लिए ठीक नहीं होता है। कम नींद ना सिर्फ कई बीमारियों को जन्म देता है बल्कि उससे मोटापा भी बढ़ता है। इसलिए आपको रोजाना भरपूर नींद लेनी चाहिए ताकि आप पूरे दिन स्फूर्तिवान बने रहने के साथ सेहतमंद भी बने रहे।
 
मेडिकल कंडीशन

कभी-कभी किसी खास परिस्थितियों में भी मोटापा बढ़ता रहता है। मिसाल के तौर पर शरीर में थॉयरायड का संतुलन बिगड़ने से शरीर में चर्बी की मात्रा बढ़ती है जो आपके सेहत को बिगाड़ने का काम करती है। डायबिटिज की कुछ दवाईयों से भी कभी-कभार मोटापा होता है। ऐसी परिस्थितियों में आपको उचित डॉक्टरों से सलाह लेनी चाहिए।


अधिक सेहत/एजुकेशन की खबरें