गायत्री की मुश्किलें बढ़ी, गैंगरेप की जांच करेंगी नई महिला सीओ
सपा सरकार के पूर्व परिवहन मंत्री व गैंगरेप के आरोपी गायत्री प्रसाद प्रजापति की मुश्किले बढ़ गई हैं।


लखनऊ : सपा सरकार के पूर्व परिवहन मंत्री व गैंगरेप के आरोपी गायत्री प्रसाद प्रजापति की मुश्किले बढ़ गई हैं। उनके ऊपर लगे महिला से रेप व उसकी बेटी से उत्पीड़न की जांच एसएसपी ने नई क्षेत्राधिकारी को सौंपी है। इससे पहले जांच कर रही सीओ पर पीड़ित महिला ने मामले को दबाने व बयान बदलने का दबाव बनाने का गंभीर आरोप लगाया था जिसके बाद कप्तान ने उन्हें इस जांच से हटा दिया है। 

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के सबसे खास माने जाने वाले मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति इस समय जेल की हवा खा रहे हैं। उन पर महिला से गैंगरेप व पीड़िता की बेटी से छेड़छाड़ का आरोप लगा हैं। 

मामला महिला से जुड़ा होने पर एसएसपी मंजिल सैनी ने इसकी विवेचना सीओ स्तर से कराने के लिए महिला क्षेत्राधिकारी अमिता सिंह को सौंपा। पीड़िता ने यह आरोप लगाया कि सीओ ने उनके साथ अभद्रता की। साथ ही बयान बदलने के लिए बेटी को प्रताड़ित किया। इसकी शिकायत मिलते ही कप्तान ने मामले को संज्ञान में लिया और सीओ को जमकर फटकार लगाते हुए उस क्षेत्र से हटा दिया।

एसएसपी ने बताया कि पीड़िता ने सीओ की जांच पर संदिग्धता जताई इसके चलते उन्हें हटाया गया है तथा उनकी जगह पर इस मामले की विवेचना नई सीओ मिनाक्षी गुप्ता को सौंपा हैं। इस मामले में सीओ से जब बात हुई तो उन्होंने कहा कि वह अपना काम पूरी ईमानदारी से करेंगी और पीड़ित को जरुर न्याय दिलायेगी। 


अधिक राज्य की खबरें