सिर्फ मोदी ही निकाल सकते हैं कश्मीर को दलदल से बाहर : ​महबूबा
महबूबा ने कहा कि किसी को भी कानून हाथ में लेने की इजाजत नहीं दी जा सकती है।


नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने कहा है कि कश्मीर को अगर कोई दलदल से निकाल सकता है तो वह सिर्फ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ही हैं। वह जो फैसला करेंगे, देश उसका सम्मान करेगा। उनका कहना है कि पहले वाले प्रधानमंत्री भी पाकिस्तान जाना चाहते थे, परंतु किसी ने जुर्रत नहीं की। लेकिन पीएम मोदी लाहौर गए, यह ताकत की निशानी है। (क्या आप बिना टिकट ट्रेन में कर कहे हैं यात्रा?...कोई बात नहीं, नहीं होगा जुर्माना)

घाटी में बिगड़े हालात के मद्देनजर जम्मू एवं कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा का यह बयान सामने आया है। उन्होंने कहा कि अगर कश्मीर के हालात ज्यादा बिगड़ते हैं, तो जम्मू और लद्दाख में भी इसका असर होगा। इस दौरान महबूबा मुफ्ती ने कांग्रेस नेता जीएस चरक के उस बयान का जवाब दिया जिसमें उन्होंने कहा था कि जम्मू में कोई भी विकास कार्य नहीं हुए हैं। उन्होंने कहा कि जम्मू आज पर्यटन स्थल बन गया है, हम उसके विकास की लगातार कोशिश कर रहे हैं।

उन्होंने कहा, 'मेरे पिता मुफ्ती मोहम्मद सईद और अटल बिहारी वाजपेयी ने कश्मीर में शांति प्रक्रिया की शुरुआत की।' उन्होंने कहा कि अब उनके पिता मुफ्ती मोहम्मद इस दुनिया में नहीं रहे और वाजपेयी सरकार नहीं है। उन्होंने कहा कि यूपीए सरकार सोचती थी कि कश्मीर में हालात सुधर रहे हैं, लेकिन अब यह बदतर हो गए हैं।

महबूबा ने कहा कि किसी को भी कानून हाथ में लेने की इजाजत नहीं दी जा सकती है। उन्होंने कहा कि कुछ लोग कश्मीर में अशांति पैदा करना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि सिर्फ पीएम मोदी ही कश्मीर समस्या का समाधान कर सकते हैं। मोदी का लाहौर जाना कमजोरी का नहीं, बल्कि एनडीए सरकार की ताकत का प्रतीक है।


अधिक देश की खबरें