बाज़ नहीं आ रहा पाकिस्तान, फिर तोड़ा सीज़फ़ायर , बालाकोट सेक्टर में फायरिंग
सीमा पार के हालात को देखते हुए इलाके के स्कूल-कॉलेजों को भी बंद कर दिया गया है.


श्रीनगर : पाकिस्तान की ओर से नियंत्रण रेखा पर संघर्षविराम उल्लंघन का मामला रुकने का नाम नहीं ले रहा है. बुधवार को भी पाकिस्तान की ओर से सीमा पर फायरिंग की ख़बर है. न्यूज़ एजंसी एएनआई के मुताबिक पाकिस्तान ने जम्मू-कश्मीर के बालाकोट सेक्टर में संघर्षविराम का उल्लंघन करते हुए फ़ायरिंग शुरू कर दी.

इससे पहले पाकिस्तान ने नियंत्रण रेखा पर रविवार (14 मई) को लगातार चौथे दिन संघर्ष विराम का उल्लंघन किया था. शनिवार (13 मई) को नौशेरा सेक्टर के रिहायशी इलाकों को निशाना बनाने के बाद पाकिस्तान की ओर से रविवार को राजौरी के चिती बकरी इलाके में छोटे हथियारों के जरिए पहले अंधाधुंध फायरिंग की गई और फिर मोर्टार भी दागे. भारतीय सेना ने भी जवाबी कार्रवाई करते हुए पाकिस्तानी सेना को मुंहतोड़ जवाब दिया.

सीमा से सटे गांवों में फायरिंग को देखते हुए प्रशासन ने कई गांवों को खाली करा दिया और करीब 1000 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर भेज दिया है. सीमा पार के हालात को देखते हुए इलाके के स्कूल-कॉलेजों को भी बंद कर दिया गया है.

पाकिस्तान ने भारतीय सीमा में घुसकर राजौरी के मंजाकोटे इलाके के सात गांवों को निशाना बनाया गया है. पाकिस्तान की ओर से 82 एमएम और 120 एमएम मोर्टार से फायरिंग की जा रही है. 13 मई को नौशेरा में पाक गोलाबारी के दौरान दो नागरिकों की मौत हो गई थी और 13 नागरिक व कई रेंजर घायल हो गए थे. नौशेरा में पाक गोलाबारी के खौफ में सैकड़ों लोगों ने राहत कैंपों में पनाह ली है. 

बीते शुक्रवार (12 मई) को भी पाकिस्तानी सेना ने जम्मू के अरनिया इलाके में सीजफायर तोड़ा था. सीमापार फायरिंग में बीएसएफ का जवान घायल हो गया था. इसके बाद बीएसएफ ने भी जवाबी कार्रवाई की थी. गुरुवार 11 मई को पाकिस्तानी सैनिकों ने नौशेरा में ही एलओसी के पास रिहायशी इलाकों पर गोले दागे थे. इस गोलाबारी में एक महिला की मौत हो गई थी और उसका पति घायल हो गया था.


अधिक देश की खबरें