लंदन: नमाज पढ़कर बाहर आ रहे लोगों को गाड़ी से मारी टक्कर
ब्रिटेन की राजधानी लंदन एक बार फिर एक हिंसक वारदात का शिकार हुई है।


लंदन : ब्रिटेन की राजधानी लंदन एक बार फिर एक हिंसक वारदात का शिकार हुई है। यहां एक मस्जिद के बाहर एक गाड़ी ने कई राहगीरों को टक्कर मारी। इस घटना में कई लोग घायल हुए हैं। चश्मदीदों के मुताबिक, आधी रात के कुछ समय बाद जब बड़ी संख्या में मुस्लिम नमाज पढ़ने के बाद फिन्सबरी पार्क के पास स्थित मस्जिद से बाहर निकल रहे थे, तब एक गाड़ी चालक ने पैदल चलते लोगों पर गाड़ी चढ़ा दी। कई लोगों का कहना है कि आरोपी ने जान-बूझकर मुस्लिमों को निशाना बनाया, हालांकि पुलिस ने इस बात की पुष्टि नहीं की है। इस्लामिक कैलेंडर के मुताबिक अभी रमजान का महीना चल रहा है। इससे पहले 3 जून की रात को 3 हमलावरों ने लंदन में 2 जगहों पर हमला किया था। 

कई लोगों का यह भी कहना है कि हमला मुस्लिम वेलफेअर हाउस के बाहर हुआ, लेकिन चूंकि उसी समय लोग फिन्सबरी पार्क मस्जिद से भी बाहर निकल रहे थे इसीलिए काफी उलझन की स्थिति पैदा हो गई। रमजान फाउंडेशन मुस्लिम ऑर्गनाइजेशन के मुख्य कार्यकारी मुहम्मद शाफिक ने बताया, 'चश्मदीदों का कहना है कि निर्दोष मुसलमानों को जान-बूझकर कर निशाना बनाया गया। अगर प्रशासन इस बात की पुष्टि करता है, तो इस मामलो को भी आतंकी हमला घोषित किया जाना चाहिए। अगर सच में लोगों को सोच-समझकर निशाना बनाया गया है, तो इसके आतंकी हमला होने में कोई शक नहीं है।' 

घटनास्थल के पास रहने वाली एक महिला ने BBC को बताया, 'मैंने खिड़की से बाहर देखा, तो कई लोग चिल्ला रहे थे। कई लोग दर्द से चीख रहे थे। बाहर बहुत बुरी हालत थी। हर कोई चिल्ला रहा था कि एक गाड़ी ने लोगों को धक्का मार दिया।' महिला ने आगे बताया, 'फिन्सबरी पार्क की मस्जिद के बाहर एक सफेद रंग की गाड़ी खड़ी थी। शायद उसी गाड़ी ने नमाज खत्म करके मस्जिद से बाहर आ रहे लोगों को निशाना बनाया था।' इस घटना के विडियो फुटेज में घायल लोग फुटपाथ पर बिना हिले-डुले स्थिर पड़े हैं और गुस्साई भीड़ ने श्वेत मूल के एक शख्स को घेर रखा है। माना जा रहा है कि इसी शख्स ने अपनी गाड़ी से लोगों को धक्का मारा। 

एक चश्मदीद ने बजफीड न्यूज को बताया कि घटना में लगभग 10 लोग घायल हुए हैं। इससे पहले कि गाड़ी चालक और लोगों को चोट पहुंचाता, वहां से गुजर रहे लोगों ने उसे काबू में किया और आरोपी चालक को अपनी गाड़ी छोड़नी पड़ी। स्थानीय पुलिस अधिकारियों ने इसे एक बड़ी घटना बताया है। यह वाकया स्थानीय समय के मुताबिक रात करीब 12:20 पर हुआ। पुलिस प्रवक्ता ने बताया, 'आपातकालीन सेवाओं के साथ पुलिस अधिकारी भी घटनास्थल पर मौजूद हैं। कई लोग इस वारदात में घायल हुए हैं। घायलों का इलाज किया जा रहा है। हमने इस मामले में अभी एक शख्स को गिरफ्तार किया है। जांच चल रही है।' 

मुस्लिम काउंसिल ऑफ ब्रिटेन के महासचिव हारुन खान ने इस पूरे मामले पर प्रतिक्रिया करते हुए कहा, 'रमजान में रात के समय मस्जिद से नमाज पढ़कर बाहर निकलने वाले लोगों पर एक गाड़ी चालक द्वारा जानबूझकर गाड़ी चढ़ाए जाने की बात सुनकर मैं हैरान और स्तब्ध हूं।' खबरों के मुताबिक, इंग्लिश डिफेंस लीग (EDL) के पूर्व नेता टोमी रॉबिन्सन ने इस हमले का बचाव करते हुए कहा कि जिस मस्जिद को निशाना बनाया गया, उसका पूर्व में कट्टरपंथियों के साथ संबंध रह चुका है। उनके बयान की निंदा हो रही है, हालांकि रॉबिन्सन ने इस तरह का कोई बयान दिया है इसकी पुष्टि नहीं हो सकी है। बाद में एक ट्वीट करते हुए रॉबिन्सन ने लिखा, 'मैं उम्मीद करता हूं कि मस्जिद के बाहर जिन निर्दोष लोगों को निशाना बनाया गया, वे ठीक होंगे।'


अधिक विदेश की खबरें

ट्रम्प की इस खूबसूरत बेटी के पहले भारत आगमन पर स्वागत के लिए आएंगे विदेशी फूल, हर डिश के लिए अलग शेफ..

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की बेटी इवांका ट्रंप हैदराबाद में होने जा रहे ग्लोबल इकनॉमिक समिट में ... ...