इजरायल के राष्‍ट्रपति रिवलिन ने प्रोटोकॉल तोड़कर पीएम मोदी का किया स्‍वागत
इजरायली राष्ट्रपति ने कहा कि पीएम मोदी दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र के बड़े नेता हैं.


येरूशलम : इजरायल दौरे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अब से कुछ देर पहले राष्‍ट्रपति रुवेन रिवलिन से मुलाकात की. रिवलिन ने प्रोटोकॉल तोड़कर पीएम मोदी का स्वागत किया. इस मौके पर दोनों नेता गर्मजोशी के साथ एक-दूसरे से गले मिले. दोनों देशों के बीच कुछ ही देर में करीब 17 हजार करोड़ का समझौता होगा. 

राष्‍ट्रपति रिवलिन ने प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ की। प्रधानमंत्री के स्‍वागत में उन्‍होंने कहा कि मैं भारत में अपनी यात्रा को भूल नहीं सकता। भारत एक मजबूत देश है। पीएम मोदी ने कहा कि इजरायल और इंडिया दोनों देशों के नाम की शुरुआत आई से होती है. आई फॉर इंडिया और आई फॉर इजरायल यानी इंडिया इजरायल के लिए है और इजरायल इंडिया के लिए है.

उन्होंने कहा कि आई विद इजरायल और आई विद इंडिया यानी इंडिया इजरायल के साथ है और इजरायल भारत के साथ. इसके अलावा मोदी ने इजरायल का मतलब इजरायल इज रियल फ्रेंड बताया. उन्होंने इजरायली राष्ट्रपति कहा कि आप प्रोटोकॉल तोड़कर लेने आए. यह आपका सवा सौ करोड़ भारतीयों के प्रति प्रेम है.

पीएम ने कहा कि मैं इजरायल में हुए स्वागत से अभिभूत हैं. इजरायली राष्ट्रपति ने कहा कि पीएम मोदी दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र के बड़े नेता हैं. आज का दिन दोनों देशों की दोस्ती के लिए ऐतिहासिक दिन है. इससे पहले मंगलवार को मोदी अपने तीन दिवसीय दौरे पर इजरायल दौरे पर पहुंचे, जहां इजरायली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने उनका जबरदस्त स्वागत किया.

बेंजामिन नेतन्याहू के साथ मिलकर जारी किए गए प्रेस वक्तव्य में मोदी ने कहा था येद वाशेम स्मारक, यह कई पीढ़ियों पहले ढहाए गए कहर की याद दिलाता है. येद वाशेम स्मारक संग्रहालय में पुष्पांजलि अपर्ति कर मोदी ने नाजी जर्मनी द्वारा मार दिए गए 60 लाख यहूदियों को श्रद्धांजलि अपर्ति की और कहा कि यह स्मारक त्रासदी की गहराईयों से उपर उठने, नफरत को पराजित करने और एक उर्जावान लोकतांत्रिक देश के निर्माण के लिए आगे बढ़ने के लिए आपकी अटूट इच्छाशक्ति के सम्मान का प्रतीक है.

इजरायल यात्रा के दूसरे दिन दोनों देशों के बीच रक्षा, कृषि, निवेश और अंतरिक्ष समेत कई क्षेत्र में समझौते हो सकते हैं. गंगा सफाई अभियान को लेकर भी दोनों देशों के बीच करार होने की संभावना है. दुनिया में पानी शुद्धिकरण की सबसे बेहतरीन तकनीक इजरायल के पास ही है.


अधिक विदेश की खबरें